यूपीः बस हादसे में मृतक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

UP Roadways Accident
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बागपत, यूपी।

यूपी में बागपत जिले के किशनपुर बराल स्टैंड पर हुए भीषण बस हादसे में चार लोगों की मौत और 22 यात्रियों के घायल होने के मामले में रमाला थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मृतकों के घर कोहराम मचा हुआ है. शोक संतप्त परिजनों को सांत्वना देने के लिए गण्यमान्य और रिश्तेदार पहुंच रहे हैं.

एसडीएम बड़ौत दुर्गेश कुमार मिश्र ने शनिवार शाम हुई दुर्घटना के संबंध में रिपोर्ट डीएम शकुंतला गौतम को प्रेषित कर दी है, जिसमें 22 घायल और चार की मौत की पुष्टि की गई है. मामले में किशनपुर बराल निवासी मृतक रामबीर के पुत्र सोनित की तहरीर पर मृतक बस चालक संजीव पुत्र संसवीर निवासी एलम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है.

बड़ौत के सीएचसी, आस्था, एपेक्स और मेडिसिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराए गए मामूली रूप से घायल हुए लोगों को मरहम-पट्टी के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया जबकि गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को मेरठ व दिल्ली के लिए रेफर किया गया है. घायलों में अभी कई की हालत नाजुक बताई जा रही है.

रमाला थाने के कार्यवाहक थानाध्यक्ष रणधीर सिंह ने बताया कि मृतक बस चालक संजीव और रामबीर का पोस्टमार्टम बागपत में कराया जा रहा है जबकि अल्लामेहर पुत्र सद्दीक निवासी रमाला और संदीप पुत्र राकेश निवासी नोजल जिला शामली का पोस्टमार्टम दूसरे जिलों में होगा.

बस हादसे में रमाला गांव निवासी अल्लामेहर 48 पुत्र सद्दीक के पांच बेटी तथा दो बेटे हैं, जिनमें से दो लड़कियों की शादी हो चुकी हैं. वह रमाला बस स्टैंड पर नाई का दुकान करता था जिससे परिवार का गुजारा चल रहा था.

हादसे के समय वह बड़ौत से घर और दुकान के लिए सामान लेकर घर लौट रहा था. उनकी मौत से परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है. किशनपुर बराला निवासी रामबीर 56 पुत्र हरि सिंह किसान था, उसके 4 लड़के हैं.

शनिवार को वह किशनपुर बराल बस स्टैंड पर स्थित पेंचर लगाने वाले दुकान पर बुग्गी के पेंचर लगवाने के संबंध में जानकारी ले रहा था. इसी दौरान पीछे से आई अनियंत्रित बस की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसकी देर रात निजी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई. पत्नी मुनेश व बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है.

हिन्दुस्थान समाचार/गौरव साहनी