प्रधानमंत्री की अपील पर केस्को भी ब्लैकआउट से निपटने को तैयार

  • जनपद के सभी जेई और टेक्निशियनों को सतर्क रहने के दिये गये निर्देश
  • शहरवासियों से की गयी अपील, केवल रोशनी ही बंद करें और बाकी चलने दें

कानपुर, 05 अप्रैल (हि.स.). कोरोना के खिलाफ जंग में सामाजिक एकता के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपील की है कि रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घरों की लाइटें बंद कर दें. इसकी जगह पर मोमबत्ती, दीपक या टार्च जलाकर रोशनी करें. ऐसे में विद्युत की आपूर्ति कम होना स्वाभाविक है और इसी को लेकर केस्को भी ब्लैकडाउन से निपटने को तैयार है.

केस्को ने सभी जेई और टेक्निशियनों को सतर्क रहने के निर्देश दिये हैं. इसके साथ ही शहरवासियों से अपील की गयी है कि इस दौरान केवल रोशनी ही बंद करें बाकी सभी अन्य चीजें चलने दें. जिससे विभाग को भी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा, अन्यथा एक साथ आपूर्ति बंद होने पर संतुलन बिगड़ जाएगा. 

देश के साथ जनपद भर में एक साथ बिजली की लाइटें बंद होने से ब्लैकआउट से होने वाली विद्युत विभाग की दिक्कतों के लिए विभाग ने भी तैयारियां पूरी कर ली हैं. केस्को की जनसंपर्क अधिकारी राजबाला ने बताया कि रात 09 बजे के पहले जिले के छह बड़े कैपिसिटर बैंक बन्द कर दिये जायेंगे. सभी जेई व टेक्निशियनों को मुस्तैद रहने के लिए पहले से ही सतर्क कर दिया गया है.

जिले में लगभग 25 लाख उपभोक्ता हैं. जिनके घरों में एक साथ लाईटें बन्द होनी है. जिसके मद्देनजर पूरी व्यवस्था कर ली गयी है. केस्को अधिकारियों का कहना है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 कोरोना पर फतह हासिल करने के लिए आज देशव्यापी समर्थन जुटाने के लिए प्रधानमंत्री की ओर से मागें के गये नौ मिनट के ब्लैकडाउन समर्थन के दौरान घरों की बिजली बंद करते वक्त पंखे चलने दें, जिससे शुरु हो चुके गर्मी के दिनों में निर्वाध बिजली की आपूर्ति संभव हो सके. हालांकि इस नौ मिनट के ब्लैकडाउन के दौरान विभाग के अभियंता बिजली ग्रिड पर अपनी कड़ी नजर बनाये रखेगें.

सामाजिक एकता का होना जरुरी

केस्को एमडी अजय कुमार माथुर का मानना है कि इस वैश्विक महामारी कोविड-19 कोरोना पर सम्पूर्ण विजय प्राप्त करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सामाजिक एकता का होना बेहद जरुरी है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहीं जानने के लिए आज नौ मिनट के नेशनल ब्लैकडाउन में जनसामान्य का समर्थन मांगा है. जिससे इस वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई इसी सामाजिक एकता के बल पर जीती जा सके.

उनका कहना है कि नौ मिनट के राष्ट्रीय ब्लैकडाउन के दौरान विभाग के अभियंताओं ने आवश्यक तैयारिया पूर्ण कर ली है. लेकिन निर्वाध बिजली को बनाये रखने के लिए नेशनल ब्लैकडाउन की तरह ही इसमें भी सामाजिक एकता की जरुरत है. इसलिए आज शाम नौ मिनट के लिए घर की बत्ती बुझाने के दौरान घर के पंखे हर हाल में चलने दे. जिससे कोविड-19 कोरोना पर विजय प्राप्त करने के साथ ही निर्वाध बिजली आपूर्ति की गारंटी दी जा सके. उन्होंने कहा कि लोग सब काम छोड़ कर अपने अपने घरों में दिए जलाएं. इससे आम जन मानस का मनोबल बढेगा. 

हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित

Leave a Reply

%d bloggers like this: