हरियाणा में मंत्रिमंडल का विस्तार फिर से अटका

चंडीगढ़, हरियाणा।

महाराष्ट्र में सरकार न बनने से हरियाणा में मंत्रिमंडल का गठन अटका हुआ है. बीजेपी हाई कमान महाराष्ट्र में सरकार बनाने की जद्दोजहद में जुटी है तो हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल नए मंत्रियों की मोहर पर हाई कमान का इंतजार कर रहे हैं.

नए मंत्रिमंडल का गठन न होने के चलते शपथ ग्रहण समारोह भी अटका हुआ है. विधानसभा सत्र में भी केवल सीएम व डिप्टी सीएम तथा विधायकों ने शपथ ली है, जबकि सदन की कार्यवाही भी बिना मंत्रियों के ही चली. 

लिहाजा नए मंत्रिमंडल के लिए मुख्यमंत्री दिल्ली दरबार के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन कोई हल नहीं निकल पाया. मुख्यमंत्री गुरुवार की रात दिल्ली से बैरंग लौट आए और अब प्रदेश की अन्य गतिविधियों में व्यस्त हो गए हैं.

हरियाणा में नई गठबंधन सरकार के सत्ता में आने के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल तथा उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने 27 अक्टूबर को शपथ ग्रहण की थी. इसके बाद से अभी तक हरियाणा में मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हुआ है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल हरियाणा विधानसभा का सत्र समाप्त होने के बाद दिल्ली चले गए थे. 

उनकी मुलाकात बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा तथा पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री से तो मुलाकात हो गई, लेकिन महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर छिड़े विवाद के चलते मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात नहीं हो सकी है.


इस बीच मुख्यमंत्री गुरुवार को चंडीगढ़ वापस लौटे तो रविवार को मंत्रिमंडल विस्तार की खबरें शुरू हो गई. सोशल मीडिया पर वायरल हुई खबरों में कहा गया कि रविवार की शाम हरियाणा में नए कैबिनेट मंत्री शपथ लेंगे. 

इस बीच दिल्ली दरबार में हो रही राजनीतिक हलचल के बीच मुख्यमंत्री मनोहर लाल शुक्रवार की शाम फिर से दिल्ली पहुंच गए. माना जा रहा है कि मनोहर लाल यहां बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगे. 

हालांकि शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल पंजाब के सुलतानपुर लोधी में करतारपुर कॉरिडोर समारोह में भाग लेंगे. इसके बाद रविवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल तथा उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पंजाब के जालंधर में होने वाले कार्यक्रमों में शामिल होंगे. 

मुख्यमंत्री तथा उपमुख्यमंत्री के रविवार तक के कार्यक्रम जारी हो चुके हैं. जिसके चलते यह साफ हो गया कि इस सप्ताह मंत्रीमंडल विस्तार की कोई संभावना नहीं है. उधर महाराष्ट्र के हंगामे के बीच हरियाणा में मंत्री बनने के लिए लॉबिंग कर रहे विधायकों की सांसें अटक गई हैं और यह इंतजार अब अगले सप्ताह तक और बढ़ गया है.

हिन्दुस्थान समाचार/वेदपाल

Leave a Comment

%d bloggers like this: