BUDGET 2019 : देश में प्रदूषण कम करने के लिए चलाई जाएगी ELECTRIC CARS, पीयूष गोयल ने किया एलान

बजट 2019 में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ऑटो सेक्टर में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को बढ़ावा देने का रास्ता साफ कर दिया हैं. पीयूष गोयल ने बजट के दौरान देश में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को चलाने की बात कही. पीयूष गोयल ने अपने भाषण में कहा कि देश में प्रदषूण को कम करने के लिए इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर खास ध्यान दिया जाएगा.

साल 2030 तक देश में इलेक्‍ट्रिक व्‍हीकल्‍स की संख्या में बढोतरी की जाएगी. इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के आने से न सिर्फ प्रदूषण पर कंट्रोल किया जा सकेगा बल्कि तेल के बढ़ते दाम से भी जनता को राहत मिलेंगी. इलेक्‍ट्रिक कार का सफर ईको-फ्रेडली होगा. भारत के कई राज्यों में सरकार इलेक्ट्रिक गाड़िया चलाने की पहल शुरू कर चुकी हैं.

बजट से ठीक पहले सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों के पार्टस और अन्य जरूरी कॉम्पोनेट पर इंपोर्ट शुल्क को घटाकर आधा कर दिया हैं. इससे पहले इलेक्ट्रिक वाहनों के पार्टस को इंपोर्ट करके भारत में निर्मित करने के लिए 15 से 30 फीसदी तक का आयात शुल्क चुकाना पड़ता था. जिन पर अब 10 से 15 फीसदी ही शुल्क अदा करना होगा.

इसके साथ इन व्हीकल्स के बैट्री पैक पर ही केवल 5 फीसदी आयात शुल्क चुकाना होगा. पिछले साल कई कम्पनियों ने अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के बारे में बताया था. इस साल भारत में टाटा और हुंडई समेत कई कम्पनियां अपनी इलेक्ट्रिक कारे लॉन्च कर सकती हैं. भारत की सबसे बडी कार कम्पनी मारूति भी अपनी इलेक्ट्रिक कार की टेस्टिंग कर रही हैं.

मारूति इस कार को साल 2019 के आखिर तक पेश कर सकती हैं. हुंडई भारत में इलेक्ट्रिक कार कोना को सबसे पहले लॉन्च करेगी. इसके साथ ही महिंद्रा भी इलेक्ट्रिक कारों पर फोकस कर रही हैं. बजट में सरकार की घोषणा के बाद इलेक्ट्रिक कार जल्द ही भारतीय सड़को पर दिखाई दे सकती हैं.

%d bloggers like this: