गमछा बांधकर चलें, जनसेवा में अनवरत समर्पित हैं भाजपा कार्यकर्ता : गिरिराज सिंह

giriraj singh
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बेगूसराय, 14 अप्रैल (हि.स.). प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मंगलवार को देश के नाम संबोधन में लॉकडाउन की अवधि तीन मई तक बढ़ाए जाने के बाद गिरिराज सिंह ने सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को घर पर रहने, सुरक्षित रहने के लिए प्रेरित करना शुरू कर दिया है.

बेगूसराय के सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को हम सब की पीड़ा के बारे में पूर्ण आभास है. उन्होंने जो भी कदम उठाया है वह हमारी सुरक्षा के लिए हैं. अन्यथा हम भी चीन, इटली, अमेरिका और ब्रिटेन की राह पर चल पड़ते. तीन मई तक सहयोग करें, घर पर रहें, सुरक्षित रहें.

प्रधानमंत्री ने देशवासियों को कोरोना के कहर से बचाने के लिए संदेश दिया है कि अपने मुंह को ढंक कर चलें, मास्क पहने या गमछा लें. प्रधानमंत्री द्वारा लॉकडाउन को अनुशासित तरीके से मानने के संदेश का पालन करें. मुंह हमेशा ढंक कर चलें, मास्क पहने या गमछा लपेट कर ही चलेें. गमछा गांव की परंपरा है, यह दक्षिण से उत्तर भारत तक सभी जगह उपयोग किया जाता है.

उत्तर भारत में तो गर्मी के समय में पछुआ हवा से बचने के लिए हर लोग अपने गमछा से मुंह ढंक कर चलते हैं. प्रधानमंत्री ने भी दिखाया है तो उनके आग्रह को पूरा करें. एहतियात बरतें, गरीब परिवार की हर संभव सहायता करते हुए उनके भोजन आवश्यकता की पूर्ति करें. इसके अलावा भी प्रधानमंत्री द्वारा परिभाषित किए गए हरेक बिंदु का पालन करें तो कोरोना हारेगा भारत जीतेगा. 

गिरिराज सिंह ने कहा है कि कोरोना संकट के समय जनसेवा के लिए हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता सदैव और अनवरत समर्पित हैं. लॉकडाउन के समय जमीनी स्तर पर 18 लाख से अधिक भाजपा कार्यकर्ता लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं. 90 हजार से अधिक कार्यकर्ता सिर्फ बीमार और वृद्ध की सेवा कर रहे हैं.

देश के 916 संगठनात्मक जिले में और 13741 मंडलों में विभिन्न स्तर पर कार्यकर्ता प्रत्येक दिन 39 लाख से अधिक पैकेट खाद्यान्न का वितरण कर रहे हैं. दस अप्रैल तक चार करोड़ 20 लाख से अधिक खाद्यान्न पैकेट, 97 लाख से अधिक राशन कीट और 67 लाख से अधिक फेस कवर (मास्क) का वितरण किया जा चुका है.

हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा