कर्नाटक विधानमंडल सत्र शुरू: बीजेपी ‘लव जिहाद’ और ‘गौ-हत्या रोधी विधेयक’ करेगी पेश

BS Yediyurappa
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बेंगलुरू, कर्नाटक।

कर्नाटक विधानमंडल का शीतकालीन सत्र सोमवार से शुरू हो गया है. सत्र में कर्नाटक की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार ‘लव जिहाद’ और ‘गौ-हत्या रोधी’ विधेयक लाने की तैयारी कर चुकी है. विधानसभा के इस सत्र में इन दोनों विधेयकों को प्रस्तुत किया जा सकता है.

इसके साथ ही पार्टी  ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ के प्रस्ताव को भी चर्चा के लिए इस सत्र में रखेगी. विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कगेरी के अनुसार सदन 14 व 15 दिसम्बर को इस पर बहस होगी. कागेरी के अनुसार सत्र में 10 से ज्यादा विधेयकों पर चर्चा की जाएगी.

उधर विधानसभा में नेता विपक्ष कांग्रेस के सिद्धारमैया ने कहा है कि पार्टी ‘लव जिहाद’ और ‘गौ-हत्या रोधी’ विधेयकों का विरोध करेगी. उन्होंने कहा कि अगर गौ-हत्या विधेयक पारित किया जाता है तो अनेक लोग बेरोजगार हो जाएंगे.

कांग्रेस काफी समय से मंत्रिमंडल विस्तार में देरी और मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के राजनीतिक सचिव एनआर संतोष द्वारा कथित रूप से खुदकुशी के प्रयास का मुद्दा उठा सकती है.

उधर गृह मंत्री बसवराज बोम्मई कह चुके हैं कि राज्य में ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून होगा तथा अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे इस संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश के बारे में सूचना एकत्र करें.

कर्नाटक के कृषि मंत्री बीसी पाटिल का हालिया दिया गया बयान, आत्महत्या करने वाले किसान कायर होते हैं, पर भी विपक्ष हंगामा खड़ा कर सकता है. बता दें कि कर्नाटक के पशुपालन मंत्री प्रभु चव्हाण पहले ही संकेत दे चुके हैं कि सात दिसम्बर से शुरू हो रहे विधानसभा के सत्र में गौ हत्या रोधी विधेयक पेश किया जाएगा.

हिन्दुस्थान समाचार/नूरुद्दीन रहमान