बीजेपी के इस विधायक ने फिर बदले सुर, कहा- मैं कमलनाथ सरकार से संतुष्ट

मध्य प्रदेश में इन दिनों सियासी भूचाल मचा हुआ है. बीजेपी की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही है. झाबुआ उपचुनाव में हार और पन्ना जिले के पवई विधानसभा से विधायक प्रहलाद सिंह लोधी की सदस्यता रद्द होने के बाद बीजेपी को एक ओर झटका लग सकता है. विधानसभा सत्र के दौरान कांग्रेस के पक्ष में वोटिंग देने वाले बीजेपी विधायक शरद कोल ने बड़ा बयान दिया है. बीजेपी विधायक का कहना है कि वे कमलनाथ सरकार के कामकाज से संतुष्ट है और सीएम कमलनाथ के साथ है.

पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर नाराज होकर बीजेपी में शामिल होकर विधायक बने विधायक शरद कोल घर वापसी के मूड में नजर आ रहे है. सोमवार देर शाम को अपने एक बयान में शहडोल जिले के ब्यौहारी विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक शरद कोल ने कहा कि मैं कमलनाथ सरकार के काम से संतुष्ट हूं और सीएम कमलनाथ के ही साथ हूं. साथ ही उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि मैंने बीजेपी नहीं छोड़ी है, मेरी प्राथमिक सदस्यता बीजेपी की है और न ही अभी तक पार्टी ने मेरी सदस्यता समाप्त की है. इसलिए मेरी गिनती बीजेपी की सदस्यता वाले विधायकों में होगी. मैंने क्षेत्र के विकास के लिए कांग्रेस की प्रदेश सरकार को समर्थन दिया था. प्रदेश सरकार भी ब्यौहारी क्षेत्र के विकास के लिए हर संभव मदद कर रही है. इसलिए मुझे कोई मलाल नहीं.

बीजेपी विधायक कोल ने कहा कि मैं किस पार्टी में हूं किसमें नहीं, इस बात का भी खुलासा जल्द ही होगा. आगामी दिसंबर माह में होने वाले विधाानसभा सत्र का मुझे भी बेसब्री से इंतजार है. इस सत्र में कई चौकाने वाली बातें सामने आएंगी. विधायक शरद के इस बयाान के बाद प्रदेश के सियासी गलियारों में हलचल बढ़ गई है. बीते 13 दिनों में बीजेपी को यह तीसरा बड़ा झटका है.

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

Leave a Comment