बिहारः भारत-नेपाल विवाद पर बीजेपी नेता आरके सिन्हा ने कांग्रेस को आइना दिखाया

RK Sinha BJP
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पटना, बिहार।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा के पूर्व सांसद आरके सिन्हा ने भारत-नेपाल विवाद पर कांग्रेस को आइना दिखाया. आरके सिन्हा ने इस पूरे विवाद के लिए कांग्रेस और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को जिम्मेदार ठहराया.

सिन्हा ने कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि नेपाल से खराब संबंधों के लिए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी एकमात्र जिम्मेदार हैं. उन्होंने कहा कि बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता बड़ा अजीब बयान देते हैं. वे नेपाल के साथ खराब संबंधों के लिए नीतीश कुमार को दोषी ठहरा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बयान देते हैं कि आजादी के बाद से लेकर अब तक नेपाल के साथ संबंध इतने खराब कभी नहीं हुए जितने आज हैं. और इन खराब संबंधों के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिम्मेदार हैं.

बीजेपी नेता ने कहा कि ऐसे बयानों पर मुझे आश्चर्य होता है कि ये आगे-पीछे बिना कुछ देखे-सुने कुछ भी बोल जाते हैं. यह सही है कि आजादी के बाद नेपाल के साथ संबंध बहुत अच्छे थे. इतने अच्छे संबंध थे कि शायद किसी अन्य देश से नहीं थे. लेकिन, वास्तविकता तो यह है कि नेपाल से संबंध राजीव गांधी ने खराब किए.

सिन्हा ने कहा कि राजीव गांधी ने नेपाल पर प्रतिबंध लगाया. नेपाल जाने के रास्ते बंद किए. महीनों तक नेपाल का दाना-पानी बंद कर दिया. नतीजा हुआ कि नेपाल की सरकार को मजबूरन चीन की ओर झुकना पड़ा और चीन की मदद लेनी पड़ी.

उन्होंने कहा कि आज नेपाल में मार्क्सवादियों की सरकार है. वह भी इसी वजह से हुआ, क्योंकि उस समय राजीव गांधी ने जो प्रतिबंध लगाए थे. उसी से मार्क्सवादी आंदोलन भड़का और नेपाल में मार्क्सवादियों की सरकार बनी, नहीं तो वहां दशकों तक नेपाली कांग्रेस की सरकार हुआ करती थी.

उन्होंने राहुल गांधी सहित पूरी कांग्रेस पार्टी को नसीहत देते हुए कहा कि बिना कुछ सोचे-समझे अंतरराष्ट्रीय विषयों पर बोलना कतई उचित नहीं है. क्षुद्र राजनीतिक स्वार्थों के लिए अंतरराष्ट्रीय संबंधों को बिगाड़ने वाली बात करना उचित नहीं है.