रघुवंश प्रसाद के निधन पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता आरके सिन्हा ने जताया शोक, साझा किया पुराना किस्सा

raghuvansh & rk sinha
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

पूर्व केंद्रीय मंत्री और आरजेडी के पूर्व नेता रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) का रविवार को एम्स (AIIMS) में निधन हो गया है. रघुवंश के निधन पर कई बड़े नेताओं की प्रतिक्रिया सामने आई है. इसी कड़ी में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने भी रघुवंश बाबू के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त किया है.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘रघुवंश बाबू एक अति सरल, सहृदय और विनम्र व्यक्तित्व के धनी थे. मैं भाजपा में था और वे राजद में. लेकिन, उन्होंने दलगत राजनीति के दलदल में फंसना कभी पसंद ही नहीं किया. वे तो मुझे बराबर जेपी आन्दोलन के साथी के रूप में ही आजीवन पहचानते रहे.’

उन्होंने एक पुराना किस्सा साझा करते हुए बताया, ‘जब रघुवंश जी मनमोहन सिंह की कैबिनेट में ग्रामीण विकास मंत्री थे और मैं सांसद भी नहीं था, मात्र एक राजनीतिक कार्यकर्ता था, तब मैं एक दिन वैशाली क्षेत्र से गुजरते हुए कहीं किसी सामाजिक कार्यक्रम में जाने वाला था. मैंनें जब उन्हें फोन किया तब उन्होनें छूटते ही कहा कि आज तो मैं भी क्षेत्र में ही हूं. आप मिलते जाइये. भोजन साथ करेंगे. उन्होंने जो स्थान बताया वो मेरे यात्रा मार्ग पर ही था. मैं जब वहां पहुंचा तो आश्चर्यचकित रह गया. उन्होंने तो पूरे स्वागत की तैयारी मे भीड़ जुटा कर रखी थी. अपने भाषण में उन्होनें मेरा जिस प्रकार से परिचय दिया, मैं तो आज भी अपने को उसके योग्य नहीं समझता. ऐसे आत्मीयता के मूर्तस्वरूप राजनेता आज तो ढूंढे भी नहीं मिलते.

लगातार बिगड़ रही थी तबीयत

बता दें कि रघुवंश प्रसाद ने दिल्ली एम्स में आखिरी सांस ली. कुछ समय पहले तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां शुक्रवार देर रात अचानक ही उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई. इसके बाद उन्हें वेटिंलेटर सपोर्ट पर रखा गया. डॉक्टर लगातार उनकी सेहत की निगरानी कर रहे थे लेकिन तबीयत लगातार बिगड़ रही थी. परिवार ने उनके निधन की पुष्टि की है. उनका अंतिम संस्कार कल यानी सोमवार को होगा.