भीषण गर्मी में पशु-पक्षियो का हाल बेहाल
  • पशु पक्षी एक एक बूंद पानी को तरस रहे है
  • जिले भर में खुदाए गए लगभग 300 तालाब सूखे पड़े हैं.जिनके भराने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है

फर्रुखाबाद. जिले में तालाबों के सुंदरीकरण के नाम पर ग्राम प्रधानों और ग्राम विकास अधिकारियों ने करोड़ों रुपये खर्च कर दिए है पर जमीनी हकीकत तो ये है कि आदर्श तालाबों पर या तो दबंगों ने कब्जा कर लिया है या फिर तलाब सूखे पड़े है.तालाबों के सूख जाने से भीषण गर्मी में पशु पक्षी बूंद-बूंद पानी को तरस रहे है. हालात ये है कि 2-2 किलोमीटर चलकर लोग काली नदी और गंगा नदी में अपने पशुओं को पानी पिलाने ला रहे हैं.

मोहम्मदाबाद की ग्राम सभा करथिया में तत्कालीन ग्राम प्रधान ने वर्ष 2007 में दो बीघा भूमि आदर्श तालाब खुदवाया था. इस तालाब पर पक्षिच्म तरफ गांव के ही किशोर कठेरिया ने कब्जा कर लिया और दक्षिण तरफ तालाब को ईश्वरी पाल ने पाटना शुरु कर दिया. वहीं पूरब में मौजूदा प्रधान ने खड़ंजा बिछाकर तालाब के अस्तित्व को मिटा दिया. उत्तर तरफ तालाब पर गांव के दबंग चन्द्रपाल ने कब्जा कर लिया. मौजूदा समय में ये आदर्श तालाब गड्ढे की तरह नजर आ रहा है.


इसी विकास खण्ड के ग्राम लखरुआ में इससे बुरा आदर्श तालाब का हाल है. इस ग्राम में मौजूदा समय में नक्शे में चार तालाब है एक के सुंदरीकरण के नाम पर 1लाख 20 हजार रुपया ग्राम प्रधान ने निकाल भी लिया है लेकिन चारो तालाब सूखे पड़े हैं. पशु पक्षी एक एक बूंद पानी को तरस रहे है.

(file photo)

ग्राम प्रधान रामप्रकाश सिंह राठौर का कहना है कि दो साल पहले उन्होंने दो तालाबों का जीर्णोद्धार कराया था. एक तालाब अधिक गहरा होने के कारण उसका जीर्णोद्धार नहीं हो सका. इसी तरह जिले भर में खुदाए गए लगभग 300 तालाब सूखे पड़े हैं.जिनके भराने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है. नतीजतन कमाल गंज के ग्राम अजीजल पुर,बन्थल, नगला अनूप,कमालपुर, रिठौरा नगला नीव,तीलियाँ,अभयपुर,नगरिया, के लोग अपने पशुओं को पानी पिलाने काली नदी में ले जा रहे है.

अहमलापुर के ग्राम प्रधान रामनिवास का कहना है कि तालाबों को भरवाने के लिए कोई अलग से बजट नहीं आता है. इस वजह तालाब नहीं भरवाए जा रहे हैं. इसी तरह राजेपुर विकास खण्ड के ग्राम बरुआ, सबलपुर, चाचूपुर, भरखा, सलेमपुर सहित सैकड़ों गांव के लोग अपने पशुओं को पानी पिलाने गंगा नदी में ला रहे है.

(file photo)

जिला पंचायत राज अधिकारी अमित त्यागी का कहना है कि तालाबों की जांच कर ग्राम प्रधानों पर कार्यवाही की जायेगी. उनका कहना है कि जिन लोगों ने आदर्श तालाबों पर कब्जा कर लिया है उनके विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई जायेगी.

हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रपाल

Trending tags – National news | Hot Summer | Water Scarcity | Weather news| Aaj Ka Samachar

%d bloggers like this: