बिहार: बक्सर के दो गांवों में आग से 150 घर खाक

बक्सर

बिहार के बक्सर जिले के ब्रह्मपुर थाना की नैनीजोर दियरा पंचायत के दो गांव में आग ने अपना तांडव दिखाया है. दमकल की चार गाड़ियों ने घंटों मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया, लेकिन तब तक दोनों गांव के आठ ग्रामीणों समेत 18 मवेशी झुलस गये, एक बच्ची की मौत हो गई और कच्चे-पक्के कुल 150 घर खाक हो गए.

मौके पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक और विधायक समेत तमाम प्रशासनिक अधिकारी पहुंच गए थे। बचाव दल राहत कार्य में लगा रहा. सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।पुलिस के अनुसार आग से झुलसी 12 वर्षीय बच्ची बबीता ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। आग रविवार रात गांव के एक साधु बाबा और ननकू के घर लगी थी.

वहां रखे रसोई गैस के सिलेंडर में विस्फोट हो गया. इससे आग ने और विकराल रूप धारण कर लिया. तुरंत अग्निशमक विभाग को सूचना दी गई. दमकल की चार गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं. जिलाधिकारी राघवेन्द्र सिंह, एसपी उपेन्द्र वर्मा और विधायक शंभूनाथ यादव के अलावा बचाव दल भी गांव में पहुंच गया.

आग लगातार बढ़ती रही. एक-एक कर कच्चे-पक्के करीब 150 मकान स्वाहा हो गए. घंटों मशक्कत करने के बाद आग पर तो काबू पा लिया गया, लेकिन तब तक आठ लोगों समेत कुल 18 मवेशी बुरी तरह से झुलस गए और एक बच्ची ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. प्रशासन अग्नि पीड़ितों को मुआवजा देने के लिए क्षतिपूर्ति का आकलन कर रही है.

जिलाधिकारी राघवेंद्र सिंह ने बताया है कि सबसे पहले गांव के ननकू के घर के पास कचरे के ढेर में आग लगी थी पर किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया. बाद में पछुआ हवा तेज होने से थोड़ी ही देर में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया.

एक अन्य घटनाक्रम के तहत ब्रह्मपुर थाना के ही बराड़ी पंचायत में आग लगने से सिताब दियारा के दो गांव में 40 बीघे तैयार गेंहू की फसल जलकर ख़ाक हो गयी. आग शार्ट सर्किट की वजह से लगी थी. इसके अलावा डुमरांव थाना के बभनी का डेरा गांव में आग 36 बीघे खेत में गेंहू, सिमरी अंचल के कोलियाटाल स्थित एक खलिहान में रखे मसूर, खेसारी और तिलहन के 2000 बोझ फसल और राजपुर थाना के डिहरी गांव में गेंहू के एक एकड़ की फसल खाक हो गई. प्रशासनिक अधिकारी पीड़ितों को मुआवजा देने के लिए क्षतिपूर्ति का आकलन करने में लगे हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/अजय

%d bloggers like this: