MASOOD पर भारत की बड़ी जीत, काम आया भारत का कूटनीतिक दबाव- जेटली

नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जैश सरगना को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने के प्रस्ताव पर बुधवार को मुहर लग गई है. अब मूसद अजहर अतंर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित हो गया है. आतंकी मसूद अजहर पर भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि ये भारत की बड़ी जीत है.

जेटली ने कहा कि भारत का कूटनीतिक दबाव काम आया है. मसूद पर भारत की ये बडी़ जीत है. उन्होंने कहा कि मसूद के इशारे पर कई हमले किए गए. आतंकवाद पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

भारत ने 2009 में मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने संबंधी प्रस्ताव पेश किया था. इसके बाद 2016 में भारत ने इस संबंध में पी3 देशों यानी अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के साथ मिल कर संयुक्त राष्ट्र की 1267 सदस्यीय प्रतिबंध समिति के समक्ष मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने संबंधी प्रस्ताव पेश किया था.

UNSC की ओर से यह कदम भारत समेत अन्य देशों द्वारा पाकिस्तान पर 14 फरवरी को हुए पुलवामा आतंकी हमले के बाद बनाए गए दबाव से उठाया गया. मसूद ने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी. बता दें कि पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

%d bloggers like this: