अनिल राजा ने पूर्व मंत्री रकीबुल हुसैन की जमकर आलोचना की

कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव अनिला राजा ने शुक्रवार को एक बार फिर पूर्व मंत्री और कांग्रेस के विधायक रकीबुल हुसैन की जमकर आलोचना की. उन्होंने कहा कि अगर समय रहते हुसैन को पार्टी दरकिनार नहीं करती है तो राज्य में कांग्रेस की हालत और भी खस्ता हो जाती.

कांग्रेस से निलंबित पूर्व प्रदेश सचिव अनिल राजा ने गुवाहाटी के श्रीमंतपुर स्थित निवास पर संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने रकीबुल हुसैन पर पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे देवव्रत सैकिया के खिलाफ षड्यंत्र रचने का भी आरोप लगाया. साथ ही कहा कि कांग्रेस आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कमर कसने के बजाए कई गुटों में बंट गयी है. इसके लिए एकमेव हुसैन ही जिम्मेदार हैं.

अनिल रजा ने कहा कि भारतीय स्वाधीनता आंदोलन में रकीबुल हुसैन का परिवार कभी भी महात्मा गांधी और जवाहर नेहरू के साथ नहीं था. हुसैन का परिवार मोहम्मद अली जिन्ना और पाकिस्तान का समर्थक था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस में रहकर हुसैन ने वर्तमान भाजपा नेता और मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा के साथ मिलकर पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई, रिपुन बोरा, प्रद्युत बरदलै आदि के खिलाफ षरयंत्र रचते आए हैं और यह सिलसिला जारी है.

उन्होंने कहा कि रकीबुल हुसैन के पास काफी नामी-बेनामी संपत्ति है. इसकी जांच चल रही है. रकीबुल जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. जल्द ही जांच पूरी होने के बाद मेरे द्वारा उठाए गए नामी-बेनामी संपत्ति की लिस्ट सामने आएगी.

पार्टी को चलाने के लिए योग्य व्यक्ति के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में अनिल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई को अध्यक्ष बनाया जा सकता था, लेकिन उनकी बढ़ती उम्र के कारण उन्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी नहीं देनी चाहिए. हालांकि, वे एक सुलझे हुए राजनेता हैं.

उन्होंने कहा कि राज्य की कमान एक ऐसे नेता को दी जानी चाहिए जो कांग्रेस के शासनकाल में मंत्री पद पर नहीं था. उनका इशारा सीधे-सीधे वर्तमान में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवब्रत सैकिया की ओर था. साथ ही कहा कि पार्टी ने उन्हें असंवैधानिक तरीके से निलंबित किया है. फिलहाल, वे कांग्रेस पार्टी के प्राथमिक सदस्य हैं.

हिन्दुस्थान समाचार /असरार/अरविंद/चंद्र

Leave a Comment

%d bloggers like this: