पारदर्शी कराधान-सम्मान की शुरूआत, प्रधानमंत्री द्वारा करदाताओं के लिए उपहारः शाह

Amit Shah
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘पारदर्शी कराधान- ईमानदार का सम्मान’ मंच की शुरुआत को करदाताओं के लिए एक उपहार बताया है. उन्होंने यह भी कहा कि यह एक नए भारत के लिए सुधार है. योजना की शुरुआत के बाद शाह ने ट्वीट कर कहा कि फेसलेस मूल्यांकन, फेसलेस अपील और करदाताओं जैसे सुधारों के साथ यह प्लेटफॉर्म कराधान प्रणाली को और मजबूत करेगा.

शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने ईमानदार करदाताओं को सशक्त बनाने और सम्मान देने के लिए कई ऐतिहासिक फैसले लिए हैं जो भारत की प्रगति और विकास की रीढ़ हैं. बता दें कि प्रधानमंत्री ने कर व्यवस्था में सुधारों को आगे बढ़ाते हुए ‘पारदर्शी कराधान–ईमानदार का सम्मान’ मंच की शुरुआत की. साथ ही देशवासियों से स्वप्रेरणा से आगे आकर भुगतान का आह्वान किया.

उन्होंने कहा कि करदाता के लिए कर देना या सरकार के लिए कर लेना, यह कोई हक- अधिकार का विषय नहीं है, बल्कि यह दोनों का दायित्व है. प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि बीते 6-7 साल में आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या में करीब ढाई करोड़ की वृद्धि हुई है, लेकिन यह भी सही है कि 130 करोड़ के देश में यह अभी भी बहुत कम है.

हिन्दुस्थान समाचार/रवीन्द्र मिश्र