Amit Shah Press Conference
Amit Shah Press Conference

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के 6 के 6 चरण में हिंसा हुई.

उन्होंने कहा कि ममता जी बीजेपी पर हिंसा करने का आरोप लगा रही हैं. उन्होंने कहा कि आप सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं, भारतीय जनता पार्टी देश के सभी राज्यों में चुनाव लड़ रही है. और सभी राज्यों में बीजेपी का मुकाबला क्षेत्रीय पार्टियों से है, लेकिन कहीं हिंसा नहीं हुई. जबकि पश्चिम बंगाल में 6 के 6 चरणों में हिंसा हुई. इसका मतलब हिंसा बीजेपी नही तृणमूल कांग्रेस कर रही है.

शाह ने मंगलवार को उनके रोड शो में हुई हिंसा का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी के पोस्टरों को हटाने का कार्यक्रम रखा गया. प्रधानमंत्री के पोस्टर फाड़े गए. पुलिस मूक दर्शक बनकर देखती रही.

उन्होंने कहा कि रोड शो में जिस तरह से जनता का समर्थन मिला, वो आप इसके फुटेज देख कर जान सकते हैं. उन्होंने कहा कि ढ़ाई घंटे तक शांतिपूर्वक रोड शो चला भी. फिर तीन हमले किए गए. आगजनी की गई.

उन्होंने कोलकाता पुलिस पर भी हमला किया. उन्होंने कहा कि सुबह से ही हमले की आशंका थी, लेकिन पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया. ईश्वर चंद्र विद्यासागर के प्रतिमा को तोड़ने के आरोपों को खारिज करते हुए शाह ने कहा कि हम तो बाहर थे. अंदर तो टीएमसी के लोग थे. अंदर से टीएमसी के लोग पत्थर फेंक रहे थे. आगजनी कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि गेट टूटा नहीं, बीजेपी के कार्यकर्ता बाहर थे, टीएमसी के कार्यकर्ता अंदर थे. कैसे प्रतिमा टूटी? उन्होंने कहा कि साढ़े सात बजे की घटना है. कॉलेज बंद हो चुके थे. तो वहां तक कोई कैसे पहुंचा? कॉलेज की चाभी किसके पास थी?

उन्होंने कहा कि शिक्षाशास्त्री की प्रतिमा को तोड़कर बंगाल में टीएमसी की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. उन्होंने टीएमसी की हार का दावा ठोंकते हुए कहा कि 6 चरणों के चुनाव में ये निश्चित हो चुका है कि टीएमसी हारने वाली है.