शाह ने प्रधानमंत्री जन धन योजना के 6 साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री मोदी को दी बधाई

Amit Shah-PM Modi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) के 6 साल पूरे होने पर पीएम मोदी को बधाई दी है. शाह ने ट्वीट करके कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी ने अपनी दूरदर्शी सोच से जन धन योजना की शुरुआत की, जिसके कारण दशकों से बैंकिंग प्रणाली से वंचित गरीबों को जन धन खाते के रूप में उनका अधिकार मिला.

उन्होंने कहा कि इस योजना से न सिर्फ गरीबों के बैंक खाते में सीधा पैसा पहुंचा बल्कि भ्रष्टाचार भी खत्म हुआ. मोदी सरकार प्रधानमंत्री जन धन योजना से गरीबों, किसानों, महिलाओं और बुजुर्गों को डीबीटी के माध्यम से उनके खातों में किसान सम्मान निधि, सब्सिडी और पेंशन पहुंचा रही है.

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि इसी योजना से कोरोना आपदा में करोड़ों गरीबों को सहायता राशि पहुंचाई. इस अभूतपूर्व योजना के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को बधाई देता हूं.

बता दें कि प्रधानमंत्री जन धन योजना की शुरुआत 28 अगस्त 2014 को हुई थी. इसका मूल उद्देश्य वंचितों को बैंकिंग की सुविधा, असुरक्षितों को सुरक्षा, जरूरतमंदों को आर्थिक मदद प्रदान करना है. साथ ही इसका मकसद किफायती कीमत पर वित्तीय उत्पादों और सेवाओं की पहुंच सुनिश्चित करना है.

प्रधानमंत्री जन धन योजना की विभिन्‍न उपलब्धियों में बैंकिंग सेवाओं तक सार्वभौमिक पहुंच, असंगठित क्षेत्र के लिए पेंशन योजना, क्रेडिट गारंटी फंड का सृजन, वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम, हर परिवार को 10000 की ओवरड्राफ्ट सुविधा के साथ सामान्य बचत बैंकिंग सुविधा तथा सूक्ष्‍म बीमा शामिल हैं.

इस योजना के तहत 55% से अधिक खाताधारक महिलाएं हैं तथा 65 परसेंट से अधिक खाताधारक ग्रामीण क्षेत्रों से हैं . प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना (PMJJBY) के अंतर्गत रूपै कार्ड पर निशुल्क दुर्घटना बीमा कवर एक लाख से बढ़ाकर दो लाख कर दिया गया है. ऑलओवर ड्राफ्ट की सीमा भी 5 हजार से बढ़ाकर 10 हजार की गई है.

भविष्‍य में प्रधानमंत्री जन धन योजना के क्रमश: 10% और 25% खाताधारकों को प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत कवर किया जाएगा. पूरे भारत में स्वीकृत बुनियादी ढांचे के निर्माण के माध्यम से प्रधानमंत्री जन धन योजना के जरिए खाताधारकों के बीच डिजिटल भुगतान को बढ़ावा दिया जाएगा.

साथ ही फ्लेक्सी-आवर्ती जमा और सुकन्या समृद्धि योजना के तहत माइक्रो-क्रेडिट और निवेश के लिए पीएमजेडीवाई खाताधारकों की बेहतर पहुंच होगी.

हिन्दुस्थान समाचार/रवींद्र मिश्र