America Women Team
The United States Women's National team is celebrating victory as World Cup champions.
  • वेटरन विंगर रपिनोइ ने मैच के अंतिम क्षणों में विवादास्पद पेनल्टी के निर्णय पर गोल करने का अवसर मिला था
  • यूरोपीय चैंपियन टीम नीदरलैण्ड दूसरी बार फाइनल में पहुंची थी. खेल के पूर्वार्ध में नीदरलैण्ड ने अमेरिकी टीम को रोके रखा

अमेरिका ने लगातार दूसरी बार और रिकॉर्ड चौथी बार महिला विश्वकप फुटबाल टूर्नामेंट जीत लिया है. नीदरलैंड के ल्योन में रविवार को खेले गए खिताबी मुकाबले में अमेरिकी मेगन रपिनोइ के पेनल्टी किक और रोज लैवेल के गोल से अमेरिका नीदरलैंड के खिलाफ 2-0 से विजयी रहा.
इससे पहले अमेरिका ने 1991, 1999 और 2015 में विश्व महिला खिताब जीते थे.

वेटरन विंगर रपिनोइ ने मैच के अंतिम क्षणों में विवादास्पद पेनल्टी के निर्णय पर गोल करने का अवसर मिला था. इस पेनल्टी के लिए विडियो सहायक रेफ़री के हस्तक्षेप की मदद लेनी पड़ी थी, जिस पर मेजबान दर्शकों ने खासा विरोध जताया. फ्रेंच रेफरी स्टेफनी फरप्पर्ट ने पेनल्टी दी थी. उसे लगा था कि नीदरलैण्ड की रक्षक महिला ने अमेरिकी स्ट्राकर को बूट मातकर रोकने की कोशिश की थी.

यूरोपीय चैंपियन टीम नीदरलैण्ड दूसरी बार फाइनल में पहुंची थी. खेल के पूर्वार्ध में नीदरलैण्ड ने अमेरिकी टीम को रोके रखा. नीदरलैैंड की गोल रक्षक सारी वां वीनेंडाल ने चार खूबसूरत बचाव किए थे.

रपिनोइ को टूर्नामेंट में छह गोल करने और तीन गोल में सहायक सिद्ध होने के लिए गोल्डन बूट ख़िताब से नवाज़ा गया. कुल 24 देशों के इस फ़ाइनल दौर के मुक़ाबले में अमेरिका ने पहले मैच में थाईलैंड को एकतरफ़ा मैच में 13-0 से हराया था. अमेरिका ने लीग में चिली, और स्वीडन को हराया था तो नॉक-आउट में उसे स्पेन, फ़्रांस और इंग्लैंड के विरुद्ध जीत हासिल हुई.

Trending Tags- Women’s World Cup 2019 | Sports News | International News

2 COMMENTS

Leave a Reply