अंबाती रायुडू ने अपने रिटायरमेंट पर किया बड़ा खुलासा, बताई वजह कि क्यों संन्यास से वापसी का किया एलान

खेल डेस्क. इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के दो महीने के दरम्यान ही मैदान पर वापसी का ऐलान करने वाले क्रिकेटर अंबाती रायुडू ने माना कि उन्होंने अपने रिटायरमेंट का फैसला लेने में जल्दबाजी की थी.

उन्होंने एक स्पोटर्स वेबसाइट से अपने रिटारयमेंट के फैसले पर खुलकर बातचीत की. रायडू ने ये भी बताया कि लक्ष्मण और हैदाराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के मुख्य चयनकर्ता नोएल डेविड के समझाने के बाद उन्होंने वापसी का फैसला किया.

रायुडू ने कहा, “अच्छे लोगों ने मुझसे बात की और कहा कि शायद ये सही समय नहीं है. सीएसके मैनेजमेंट, लक्ष्मण भाई, नोएल भाई लगातार मुझसे इस बारे में बात कर रहे थे और आखिर में मुझे एहसास हुआ कि उनकी बातें सही हैं.

मुझे लगा कि जो हासिल करने के लिए मैंने 20 साल मेहनत की उसे मैं ऐसे ही क्यों छोड़ दूं. उन्होंने आगे कहा. “मैं इसके बारे में फिर से सोचा और मुझे लगा कि मैं जब मैं खेल सकता हूं, ऐसे में अगर मैं इसे छोड़ रहा हूं तो ये स्वार्थ है.

मैं खेलने के लिए अब भी पूरी तरह फिट हूं और खेल सकता हूं, इसलिए मुझे लगता है कि ये फैसला थोड़ी जल्दबाजी में लिया गया. हालांकि रायुडू ने माना कि विश्व कप में मौका ना मिलना बेहद निराशानजक था.

रायडू ने कहा, “मैं बेहद इससे काफी निराश था लेकिन मुझे यकीन है कि टीम मैनेजमेंट, चयनकर्ता के दिमाग में कोई कॉम्बिनेशन होगा. इसमें कोई दोराय नहीं है कि सच कहूं तो मैं विश्व कप खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार था.

विश्व कप टीम से अनदेखा किए जाने पर रायुडू ने 3D चश्मों वाला मजाकिया ट्वीट कर चयनकर्ताओं पर तंज कसा था. विश्व कप में स्टैंड बाय पर होने के बावजूद विजय शंकर के चोटिल होने पर रायुडू को मौका नहीं मिला.

कई लोगों का मानना है कि उनके इसी ट्वीट की वजह से उन्हें वर्ल्ड कप में मौका नहीं दिया गया. जिस पर रायडू ने कहा कि “अगर ऐसी चीजों पर बात आती है तो मुझे नहीं पता कि इसे कैसे कहा जाए लेकिन मुझे नहीं लगता कि इस ट्वीट ने कोई भूमिका निभाई होगी.


Leave a Reply

%d bloggers like this: