ऐमजॉन के लोगो का फोटो

नई दिल्ली. दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट में से एक Amazon ने एक बार फिर भारतीयों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है.Amazon अपनी ऑनलाइन शॉपिंग साइट पर भगवान शिव और गणेश से बने पैरदान की बिक्री की कर रहा है.

जैसे ही लोगों को इस बात का पता चल लोगों ने सोशल मीडिया पर इसका जमकर विरोध करना शुरू कर दिया. सोशल मीडिया पर इसके खिलाफ अभियान भी चलाया गया है.

लोगों ने Amazon का किया विरोध-

सोशल मीडिया साइट ट्वीट पर लोग #BoycottAmazon के नाम से Amazon का विरोध कर रहे हैं. साथ ही Amazon के एप को uninstall करने के लिए भी कह रहे हैं. Amazon की इस हरकत पर लोगों का गुस्सा जमकर भूट रहा है.

कुछ ही देर में कंपनी के खिलाफ यह अभियान जोर पकड़ गया और Amazon ने अपनी साइट से इस पैरदान को हटा दिया है.इस बिक्री की पूरी दुनिया के भारतीय समुदाय के लोगों ने आलोचना की है.

Amazon कई बार कर चुका है ये काम-

ये पहली बार नहीं है जब Amazon ने ऐसा किया हो. पहले भी दो बार और Amazon ने ऐसा कर चुका है. इससे पहले Amazon कनाडा में अपनी ऑनलाइन साइट पर तिरंगे से बने पैरदान और गांधी जी के प्रिंट की हुई चप्पलों को बेच रहा था.

लोगों का विरोध झेल रहा Amazon-

उस समय भी Amazon को भारत में इसका विरोध झेलना पड़ा था. उस समय भी विरोध शुरू होने के कुछ समय बाद Amazon ने अपनी साइट से तिरंगे से बने पैरदान और गांधी जी के प्रिंट की हुई चप्पलों को हटा लिया था.बात सिर्फ इतनी ही नहीं है, इस साइट पर अमेरिकी राष्ट्रीय ध्वज से बने पैरदान भी ग्राहकों को उपलब्द्ध कराये जा रहे थे.

लोगों ने Twitter पर किया ऐसे विरोध-

Twitter पर एक यूजर Chowkidar Geetika Swami ने अपने Twitt करते हुए लिखा है कि Amazon ऐसा कई बार कर चुका है.लेकिन हम अपनी गलतियों से कभी नहीं सिखते हैं और बार-बार भरोसा कर लेते हैं.साथ ही Geetika ने Amazon की कई फोटो भी शेयर की है.

$ha®aD नाम के एक Twitter यूजर ने विरोध करते हुए लिखा है कि Amazon को सबक सिखाने का यही तरीका है की इसे बुरी रेटिंग दी जाए. साथ ही इसका एप uninstall किया जाए.

Dharma Shiromani नाम के एक Twitter यूजर ने विरोध करते हुए लिखा है कि Amazon को किसी की भावनाओं की परवाह नहीं है. Amazon का ऐसा करना धार्मिक भावनाओं को आहत करना है और ये हिंदू देवताओं का अनादर भी है.हमे ऐसी वेबसाइट को सपोर्ट नहीं करना चाहिए.