अल्मोड़ा की आजीविका महिला समूहों ने 20 लाख रुपये के मास्क बेचे

अल्मोड़ा . लॉकडाउन के दौरान अल्मोड़ा में आजीविका परियोजना से जुड़े महिला समूहों ने 20 लाख रुपये के मास्कों का निर्माण किया. परियोजना से जुड़ी 23 महिला समूहों की जरूरतमंद महिलाओं ने इन मास्कों का निर्माण कर विभिन्न सरकारी कार्यालयों और सार्वजनिक उपक्रमों में बिक्रय किया. यहीं नहीं प्रति मास्क इन महिलाओं को डबल लेयर में पांच रुपये और सिंगल ​लेयर में तीन रुपये का लाभांश भी मिला.

अल्मोड़ा जिले में आजीविका परियोजना ने हजारों की संख्या में स्वयं सहायता समूह बनाये गये है, कोरोना संक्रमण काल में ही महिला समूह ने 20 लाख रुपये के मास्क बेचे और अभी भी तेजी से मास्कों का निर्माण किया जा रहा हैं. हस्त निर्मित मास्क में जहां महिलाओं को रोजगार मिला, वहीं लोगों को आसानी से मास्क मिल गये. बाजारों में मास्क की कमी थी और केवल सर्जिकल मास्क मिल रहे थे, जिन्हें एकबार उपयोग कर फैंकना पड़ता था. लेकिन हस्तनिर्मित मास्कों को दोबार धोकर इस्तेमाल किया जा सकता है.

महिला समूह की सदस्य हेमा बिष्ट और किरन ने बताया कि मास्क निर्माण से लॉक डाउन के दौरान उन्हें घर पर ही रोजगार मिल गया और समूह के माध्यम से अच्छी आमदनी भी हुई. परियोजना के जिला परियोजना प्रबंधक कैलाश भट्ट ने बताया कि परियोजना अपने विभिन्न समूहों के माध्यम से 20 लाख रुपये के मास्क निर्माण कर विभिन्न सरकारी और सार्वजनिक उपक्रमों में विक्रय कर चुकी है, जिसका लाभांश महिला समूहों को दिया जा रहा है.

हिन्दुस्थान समाचार / प्रमोद जोशी

Leave a Reply

%d bloggers like this: