डॉ कफील पर NSA लगाना गैरकानूनी, तुरंत रिहा करें- इलाहाबाद हाईकोर्ट

444,
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

डॉ. कफील को बड़ी राहत
एनएसए ऐक्ट हाई कोर्ट ने रद्द किया
कफील को जेल से तत्काल रिहा करने का आदेश

नई दिल्ली. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने डॉक्टर कफील खान को बड़ी राहत देते हुए उनके खिलाफ एनएसए के आरोपों को खारिज कर दिया है. इसके साथ ही हाईकोर्ट ने डॉ कफील खान को तुरंत रिहा करने का आदेश दिया है. डॉ कफील के मामले में जल्दी ही फैसला देने का आदेश बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने दिया था.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में विवादित बयान देने के मामले में डॉ. कफील खान (Dr Kafeel Bail) की मुंबई (Mumbai) से गिरफ्तारी की गई थी. कोर्ट ने NSA के तहत डॉक्टर कफील को हिरासत में लेने और हिरासत की अवधि को बढ़ाए जाने को गैरकानूनी करार दिया.

हाईकोर्ट का ये आदेश डॉ. खान की मां के द्वारा दायर एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका में आया है, जिसमें आरोप लगाया गया था कि उनके बेटे को अवैध रूप से हिरासत में लिया गया है और तुरंत रिहाई की जाए.

बता दें कि डॉक्टर कफील पिछले 6 महीनों से मथुरा की जेल में बंद हैं. हाल ही में उनकी हिरासत को 3 महीने के लिए बढ़ाया गया था. इस मुकदमे में 10 फरवरी के बाद डॉ. कफील की रिहाई की तैयारी चल रही थी. लेकिन उनके खिलाफ एनएसए (NSA) के तहत मुकदमा लिखा गया था.

दिसंबर महीने में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर योगेंद्र यादव के साथ डॉ. कफील ने एएमयू में विवादित बयान दिया था. इस पर कफील के खिलाफ सिविल लाइंस केस दर्ज किया गया था.

हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद डॉ. कफील के भाई अदिल खान ने कहा, ‘इलाहाबाद हाई कोर्ट ने डॉ. कफील खान के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम रद्द कर दिया. मैं हाई कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करता हूं और अदालत को धन्यवाद देता हूं. यह फैसला इतिहास में एक उदाहरण होगा.