प. बंगाल के सभी समाचार एक साथ- 9 अक्टूबर 2018

सम्पत्ति नहीं लिखने पर बेटों ने पिता को पीटा

मालदा, 09 अक्टूबर (हि.स.)। सम्पत्ति नहीं लिखने पर अपने पिता को पीटने का आरोप तीन बेटों पर लगा है। घायल व्यक्ति का नाम शुरूर शेख (55) है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 घटना सोमवार रात मालदा के कालियाचक थाना के कटालबाड़ी इलाके में घटी।
जानकारी के अनुसार, नुरूर शेख की तीन कट्ठा जमीन है। आरोप है नुरूल की पत्नी के निधन के बाद तीनों बेटे वह जमीन अपने नाम करवाने के लिए पिता पर दबाव बना रहे थे, लेकिन नुरूल ने ऐसा करने से इंकार कर दिया था। सोमवार रात को भी उन्होंने पिता को जमीन उनके नाम लिखने का दबाव दिया जिसे नुरूल ने नकार दिया। इसके बाद ही गुस्साए बेटों ने पिता की पिटाई कर दी। आरोप है इस दौरान उन्होंने बांस से हमला कर नुरूल का सिर फोड़ दिया।नुरूल के चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे। यह देख तीनों बेटे फरार हो गए। पड़ोसियों ने ही उन्हें मालदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया। आरोपित अनवर शेख, श्याम शेख और साहेब शेख के खिलाफ सोमवार देर रात कालियाचक थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।
हिन्दुस्थान समाचार /भोला/प्रतीक [/expand]
 

तृणमूल को उसी के फार्मूले से हराएंगे: मुकुल रॉय

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। एक समय में ममता बनर्जी के खास रणनीतिकार रहे मुकुल रॉय अब भाजपा के सारथी बन गए हैं।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें पंचायत चुनाव का प्रभारी तो नियुक्त किया ही था, वहां से मिली सफलता को देखते हुए उन्हें लोकसभा चुनाव में भी प्रचार समिति का संयोजक यानी एक शब्द में कहा जाए तो लोकसभा चुनाव प्रबंधन की पूरी जिम्मेदारी सौंप दी है। अब इस बड़ी जिम्मेदारी के मिलने के बाद मुकुल राय भी बड़े पैमाने पर लंका ढहाने में जुट गए हैं।
मंगलवार को उन्होंने कोलकाता में कहा है कि तृणमूल कांग्रेस को 20 सीटों पर सिमटा दिया जाएगा। ऐसा कैसे संभव होगा, इस बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि वे लंबे समय तक तृणमूल के साथ रहे हैं और तृणमूल के फार्मूले का इस्तेमाल अब उसके खिलाफ करेंगे।मुकुल ने कहा कि जिस रणनीति का इस्तेमाल जमीनी स्तर पर तृणमूल कांग्रेस लगातार करती रही है, उसी रणनीति का इस्तेमाल चुनाव के समय भाजपा भी करेगी। उन्होंने बताया कि मतदान शुरू होने से एक घंटे पहले तृणमूल कांग्रेस प्रत्येक बूथ पर 30 से 40 ऐसे लोगों को तैयार करती है जो निश्चित तौर पर तृणमूल के लिए मतदान करेंगे। उसके बाद बाकी बचे लोगों से पार्टी के समर्थन और मतदाता के हिसाब से नंबरों का आंकड़ा तय किया जाता है। इसी तरह से अब भाजपा भी करेगी। उन्होंने बताया कि उन्होंने पार्टी नेताओं को खासतौर पर यह निर्देश दिया है कि राजधानी कोलकाता समेत राज्य के प्रत्येक हिस्से में आम लोगों से अधिक से अधिक संपर्क बढ़ाएं। जितना अधिक लोगों से मिलना-जुलना होगा वह पार्टी के पक्ष में उतना ही अधिक लाभदायक होगी। इस बीच चुनाव प्रबंधन, कानूनी सलाह, सांगठनिक समन्वय और अन्य रणनीति सब कुछ ठीक उसी तरह से अपनाई जाएगी जैसे तृणमूल कांग्रेस अपनाती रही है।
हिन्दुस्थान‌ समाचार /ओम प्रकाश/मधुप/प्रतीक [/expand]

 

दुर्गा पूजा में कोलकाता आएंगे सुरेश प्रभु

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। लोकसभा चुनाव से पहले सभी पार्टियों के लिए पश्चिम बंगाल राजनीति का अखाड़ा बनता जा रहा है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहले ही घोषणा कर दी है कि वह दुर्गा पूजा भ्रमण के लिए अष्टमी के दिन राजधानी कोलकाता में मौजूद रहेंगे। इस बीच केंद्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु का भी कोलकाता दौरा प्रस्तावित किया गया है।
प्रदेश भाजपा के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सुरेश प्रभु षष्ठी के दिन परिवार के साथ कोलकाता आएंगे। वे तीन दिनों तक कोलकाता में रहेंगे। बताया गया है कि वह अपनी पत्नी और बच्चे के साथ राजधानी कोलकाता की प्राय:सभी विशिष्ट पूजा पंडालो का भ्रमण करेंगे।प्रदेश भाजपा की ओर से बताया गया है कि उनका यह सफर किसी तरह से राजनीतिक नहीं है, न ही उनका कोई राजनीतिक कार्यक्रम है। वे व्यक्तिगत तौर पर दुर्गा पूजा घूमने के लिए आ रहे हैं। हालांकि उनके दौरे की जानकारी पश्चिम बंगाल सरकार को दी गई है। कोलकाता पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सुरेश प्रभु के आगमन पर उनके दुर्गा पूजा भ्रमण के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी।भले ही भाजपा की ओर से कहा जा रहा है कि सुरेश प्रभु का दौरा किसी भी राजनीतिक कार्यक्रम से प्रेरित नहीं है। लेकिन एक ओर कांग्रेस अध्यक्ष का अष्टमी के दिन कोलकाता आना और उसके पहले भाजपा के केंद्रीय मंत्री का तीन दिनों तक कोलकाता में रहकर विभिन्न पूजा पंडालों में घूमना निश्चित तौर पर बंगाली संस्कृति के सम्मान का संदेश देना है।हिन्दुस्थान‌ समाचार /ओम प्रकाश/मधुप/प्रतीक [/expand]

 

दुर्गा पूजा के दौरान सारी रात ट्रैफिक पुलिस के जवान करेंगे ड्यूटी

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। कोलकाता में दुर्गा पूजा के दौरान सारी रात ट्रैफिक पुलिस के जवान ड्यूटी करेंगे।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 पूजा के दौरान बिना हेलमेट बाइक चलाने वालों के खिलाफ पुलिस विशेष तौर पर सख्ती बरतेगी। ट्रैफिक अधिकारी ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी।
राजधानी में हरेक चौराहे पर पोस्टर छपवा कर लगाए गए हैं जिसमें लोगों को इस बात के लिए पहले से आगाह किया गया है कि वह दुर्गा पूजा के माहौल में ट्रैफिक कानूनों को ना तोड़ें। इसमें साफ किया गया है कि पूजा के दौरान सारी रात ट्रैफिक पुलिस के जवान ड्यूटी करेंगे। इस बीच राजधानी में लाखों लोगों की भीड़ भी उमड़ेगी। इसमें बिना हेलमेट के बाइक चलाने वालों के खिलाफ विशेष तौर पर नजर रखी जाएगी। उक्त अधिकारी ने बताया कि पूजा में भीड़ अधिक होगी, इसलिए बिना हेलमेट या ट्रैफिक कानूनों को दरकिनार कर बाइक चलाने पर दुर्घटना की संभावनाएं बढ़ जाएगी। इसे ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने यह पहल की है।इस दौरान बिना हेलमेट पकड़े जाने वाले लोगों के खिलाफ मौजूदा कानूनों के तहत कार्रवाई की जाएगी।
हिन्दुस्थान‌ समाचार /ओम प्रकाश/मधुप/प्रतीक [/expand]

 

फैशन डिजाइनर से छेड़खानी के आरोप में ऑटो चालक गिरफ्तार

कोलकाता, 9 अक्टूबर (‍हि.स.)। कोलकाता के एक फैशन डिजाइनर के साथ लगातार छेड़खानी करने के आरोप में विधाननगर उत्तर थाने की पुलिस ने ऑटो चालक को गिरफ्तार किया है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 उसका नाम हराधन दास है। वह मूल रूप से न्यू टाउन थाना अंतर्गत सुलानगुड़ी का रहने वाला है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बारे में बताया कि करिश्मा गुप्ता नाम की फैशन डिजाइनर ने मंगलवार सुबह विधाननगर उत्तर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। उसने बताया है कि 27 सितंबर को वह हराधन के ऑटो में बैठी थी। उस दिन उसने जान-बूझकर उसके शरीर के अंगों को छुआ और उसके साथ अश्लीलता कर रहा था। पहली बार उसने इसे नजरअंदाज करने की कोशिश की। इस बीच छह अक्टूबर को एक बार फिर वह 206 नंबर बस स्टॉप के पास उसी के ऑटो में संयोग से बैठ गई। आरोपी चालक उसे पहचानने के बाद उसे नंबर देने के लिए जबर्दस्ती करने लगा था। उस दिन उसने जैसे-तैसे उससे पीछा छुड़ाया। उसके बाद मंगलवार यानी नौ अक्टूबर को एक बार फिर बस स्टॉप के पास इंतजार करने के दौरान हराधन वहां पहुंच गया और नंबर देने के लिए परेशान करने लगा। उसके बाद करिश्मा ने विधाननगर उत्तर थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 354 और 354 डी के तहत मामला दर्ज किया गया है।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप/राधा रमण [/expand]

 

अमेरिका में अध्ययन को इच्छुक छात्रों के लिए कार्यशाला

कोलकाता, 9 अक्टूबर (हि.स.)। अमेरिका में स्नातक, स्नातकोत्तर की पढ़ाई करने वाले इच्छुक छात्रों के लिए पूजा से पहले विशेष कार्यशाला का आयोजन अमेरिकन सेंटर की ओर से किया जाएगा।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 संस्थान की ओर से इस बारे में विज्ञप्ति जारी कर मंगलवार को जानकारी दी गई है। इसमें बताया गया है कि 12 अक्टूबर को शाम पांच बजे से कोलकाता स्थित अमेरिकन सेंटर के लिंकन रूम में इस कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। इसका आयोजन लॉस एंजलिस कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय की ओर से किया गया है। इसमें जो छात्र पहले पहुंचेंगे उनका नाम पहले पंजीकृत होगा। इसके दूसरे दिन यानी 13 अक्टूबर को लिंकन रूम में ‘स्टार वॉर्स एपिसोड 4- ए न्यू होप’ मूवी की स्पेशल टेलीकास्टिंग होगी। शाम 4:00 बजे से इस फिल्म का प्रदर्शन होगा। छात्रों से लैपटॉप, टैबलेट या नोटबुक लेकर नहीं आने की अपील की गई है। साथ ही मोबाइल जमा रखने की व्यवस्था कराई गई है।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप/राधा रमण [/expand]

 

विनोदिनी गर्ल्स हाई स्कूल में बच्ची से दुष्कर्म के बाद रणक्षेत्र बना इलाका

कोलकाता, 9 अक्टूबर (हि. स.)। कोलकाता के एक और बड़े स्कूल में छह साल की मासूम के कथित यौन उत्पीड़न की घटना प्रकाश में आने के बाद पूरा इलाका रणक्षेत्र बन गया।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 घटना ढाकुरिया के विनोदिनी गर्ल्स हाई स्कूल की है।
आरोप है कि बंद के दिन यानी 26 सितंबर को छह साल की मासूम को स्कूल में बंद कर एक शिक्षक ने यौन उत्पीड़न की घटना को अंजाम दिया था। उस समय बच्ची की मां डेंगू से पीड़ित थी इसीलिए घटना के बारे में जानकारी नहीं मिल सकी। स्वस्थ होने के बाद घर लौटी तो बच्ची स्कूल नहीं जाना चाहती थी। कारण पूछने पर उसने पूरी वारदात के बारे में खुलासा किया। इसके बाद मंगलवार सुबह बच्ची की मां स्कूल पहुंची और घटना से संबंधित शिकायत दर्ज कराई। उस समय मौके पर मौजूद अभिभावकों को जब इस वारदात के बारे में पता चला तो वे उग्र हो गए और आरोपित शिक्षक को अपने हवाले करने की मांग करने लगे। इधर सूचना मिलने के बाद बड़ी संख्या में पुलिस वहां पहुंच गई।अभिभावकों का आरोप है कि हंगामा बढ़ने के बाद स्कूल प्रबंधन ने सभी बच्चों को स्कूल में बंद कर दिया और बाहर नहीं निकलने दे रहे थे। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाने की कोशिश की लेकिन न तो स्कूल प्रबंधन बच्चों को छोड़ने पर राजी हुआ और न ही अभिभावक शांत हुए, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पडा ।
छह साल की बच्ची में उत्पीड़न लायक कुछ भी नहीं : शिक्षिकावारदात को लेकर विनोदिनी गर्ल्स स्कूल के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे अभिभावकों को दरकिनार करते हुए स्कूल की एक शिक्षिका ने यहां तक कह दिया कि उतनी छोटी बच्ची‌ के शरीर में ऐसा कुछ भी नहीं है कि शिक्षक को उसका यौन उत्पीड़न करने की जरूरत पड़ेगी। मामले में प्रतिक्रिया के लिए स्कूल प्रबंधन से संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन किसी का जवाब नहीं मिल सका है।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/प्रकाश/मधुप/सुभाष [/expand]

 

राज्य सरकार ने की भूकंप से निपटने के लिए विशेष कार्यशाला

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत राज्यभर में एक के बाद एक आपदाओं में एजेंसियों की विफलता ने राज्य सरकार की साख पर बट्टा लगाया है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 इसे देखते हुए राज्य आपदा प्रबंधन विभाग बेहद सतर्क हो गया है। इसी कड़ी में राज्य में कहीं भूकंप आता है तो उससे कैसे निपटा जा सकता है। इसको लेकर राज्य सचिवालय नवान्न में दो दिवसीय एक विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में पड़ोसी राज्य सिक्किम की सुरक्षा एजेंसियों के अलावा केंद्रीय और अर्ध-सैनिक बलों के विशेषज्ञों को भी शामिल किया है।
राज्य आपदा प्रबंधन के संयुक्त सचिव प्रसन्न कुमार मंडल ने ‘हिन्दुस्थान‌ समाचार’ से खास बातचीत में बताया कि राज्य सचिवालय नवान्न के नौवीं मंजिल पर मौजूद सभागार में इस कार्यशाला का आयोजन किया गया है। इसके बाद बुधवार को सभी जिलों में इसका आयोजन होगा एवं सचिवालय के कृषि विभाग में मौजूद कंट्रोल रूम से इसका पर्यवेक्षण किया जाएगा।संयुक्त सचिव ने बताया कि उत्तर बंगाल के विभिन्न जिलों में भूकंप की आशंका अधिक होती है। इसे देखते हुए इन जिलों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। खाततौर पर अलीपुरदुआर, कूचबिहार, जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग, कालिमपोंग, मालदा, उत्तर और दक्षिण दिनाजपुर, उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिले में इस कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इसमें राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के अलावा गृह विभाग, अग्निशमन और आपातकालीन सेवा विभाग, राज्य लोक निर्माण विभाग, जनस्वास्थ्य इंजीनियरिंग और परिवार कल्याण विभाग, परिवहन, कृषि, सिंचाई और जलपथ, खाद्य एवं विपणन समेत राज्य के सभी संबंधित विभागों ने हिस्सा लिया है।
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने आपदा प्रबंधन के लिए इतनी बड़ी कार्यशाला का आयोजन पहली बार किया है।हिन्दुस्थान‌ समाचार/ओमप्रकाश/मधुप/प्रभात/सुभाष [/expand]

 

राज्य सरकार ने की भूकंप से निपटने के लिए विशेष कार्यशाला

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत राज्यभर में एक के बाद एक आपदाओं में एजेंसियों की विफलता ने राज्य सरकार की साख पर बट्टा लगाया है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 इसे देखते हुए राज्य आपदा प्रबंधन विभाग बेहद सतर्क हो गया है। इसी कड़ी में राज्य में कहीं भूकंप आता है तो उससे कैसे निपटा जा सकता है। इसको लेकर राज्य सचिवालय नवान्न में दो दिवसीय एक विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में पड़ोसी राज्य सिक्किम की सुरक्षा एजेंसियों के अलावा केंद्रीय और अर्ध-सैनिक बलों के विशेषज्ञों को भी शामिल किया है।
राज्य आपदा प्रबंधन के संयुक्त सचिव प्रसन्न कुमार मंडल ने ‘हिन्दुस्थान‌ समाचार’ से खास बातचीत में बताया कि राज्य सचिवालय नवान्न के नौवीं मंजिल पर मौजूद सभागार में इस कार्यशाला का आयोजन किया गया है। इसके बाद बुधवार को सभी जिलों में इसका आयोजन होगा एवं सचिवालय के कृषि विभाग में मौजूद कंट्रोल रूम से इसका पर्यवेक्षण किया जाएगा।संयुक्त सचिव ने बताया कि उत्तर बंगाल के विभिन्न जिलों में भूकंप की आशंका अधिक होती है। इसे देखते हुए इन जिलों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। खाततौर पर अलीपुरदुआर, कूचबिहार, जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग, कालिमपोंग, मालदा, उत्तर और दक्षिण दिनाजपुर, उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिले में इस कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इसमें राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के अलावा गृह विभाग, अग्निशमन और आपातकालीन सेवा विभाग, राज्य लोक निर्माण विभाग, जनस्वास्थ्य इंजीनियरिंग और परिवार कल्याण विभाग, परिवहन, कृषि, सिंचाई और जलपथ, खाद्य एवं विपणन समेत राज्य के सभी संबंधित विभागों ने हिस्सा लिया है।
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने आपदा प्रबंधन के लिए इतनी बड़ी कार्यशाला का आयोजन पहली बार किया है।हिन्दुस्थान‌ समाचार/ओमप्रकाश/मधुप/प्रभात/सुभाष [/expand]

 

आग लगने से लकड़ी का गोदाम जलकर राख

बहरमपुर (मुर्शिदाबाद), 09 अक्टूबर (हि.स.)। मुर्शिदाबाद के कांथी पेट्रोल पम्प के समीप जटाधारी लकड़ी गोदाम में सोमवार देर रात आग लगने से गोदाम जलकर राख हो गया।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 सोमवार रात करीब दो बजे गोदाम से कुछ दूरी पर स्थित एक राष्ट्रीयकृत बैंक के सुरक्षा कर्मी ने गोदाम से आग की लपटें निकलती देखीं और स्थानीय लोगों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद इसकी जानकारी पुलिस व दमकल को दी गई। खबर पाकर मौके पर पहुंचे दमकल के दो इंजनों ने आग पर काबू पाया।
स्थानीय लोगों ने बताया कि गोदाम के पास ही एक पेट्रोल पंप और राष्ट्रीयकृत बैंक है। अगर सुरक्षा कर्मी ने आग नहीं देखी होती तो दोनों आग की चपेट में आ गए होते। गोदाम के मालिक ने घटना में लाखों के नुकसान के नुकसान का दावा किया है। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। दमकल विभाग और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।हिन्दुस्थान समाचार/भोला/मधुप/सुप्रभा/आशुतोष [/expand]

 

विश्वभारती के स्थायी कुलपति नियुक्त किए गए विद्युत चक्रवर्ती

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। करीब ढाई सालों के लंबे अंतराल के बाद अंततः विश्वभारती विश्वविद्यालय के अध्यक्ष विद्युत चक्रवर्ती को विश्वविद्यालय का स्थायी कुलपति नियुक्त किया गया है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 इस बारे में सोमवार रात केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय की ओर से आधिकारिक सहमति का ई-मेल राज्य शिक्षा विभाग और विश्वविद्यालय को भेजने की पुष्टि की गई है। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय के उप सचिव सूरत सिंह की ओर से भेजे गए इस ई-मेल में साफ किया गया है कि विद्युत चक्रवर्ती तत्काल प्रभाव से कुलपति का पद संभालेंगे। इसके पहले विद्युत दिल्ली विश्वविद्यालय में विज्ञान विभाग के अध्यक्ष रह चुके हैं। उन्होंने कलकत्ता विश्वविद्यालय से स्नातक की पढ़ाई की है। उसके बाद लंदन स्कूल आफ इकोनॉमिक्स से शोध भी उन्होंने किया है। देश की राष्ट्रनीति और इंफ्रास्ट्रक्चर के संबंध में उनके द्वारा किए गए रिसर्च से संबंधित कई किताबें भी उपलब्ध हैं।
ज्ञात हो कि भ्रष्टाचार और अनियमितता का आरोप लगने के बाद 2016 के फरवरी महीने में तत्कालीन स्थाई कुलपति सुशांत दत्त गुप्ता को केंद्र सरकार ने बर्खास्त कर दिया था। उसके बाद स्वप्न कुमार दत्त अस्थाई कुलपति के रूप में विश्वविद्यालय का दायित्व संभाल रहे थे। इस साल 28 जनवरी को स्वप्न कुमार का कार्यकाल खत्म हो गया। उनके सेवानिवृत्त होने के बाद विश्वविद्यालय के वरिष्ठतम निदेशक तथा विनय भवन के अधिकारी सबुज कली सेन ने अस्थायी कुलपति का दायित्व संभाला। उन्हीं के कार्यकाल में स्थायी कुलपति तलाशने के लिए सर्च कमेटी का गठन किया गया था। विश्वविद्यालय के पांच वरिष्ठ प्रोफेसरों का नाम राष्ट्रपति और केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय को भेजा गया था जिसमें विद्युत का भी नाम था।ज्ञात हो कि ढाई वर्षों तक स्थाई कुलपति की नियुक्ति नहीं होने की वजह से विश्वभारती जैसे बड़े संस्थान के छात्रों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था। यहां शिक्षकों को भी कई मामलों में फैसले लेने को लेकर समस्याओं में पड़ना पड़ा है। विश्वविद्यालय के लिए किसी भी तरह का समझौता, जरूरत के हिसाब से बड़ी राशि का आवंटन, विश्वविद्यालय संबंधित कोई भी बड़ा फैसला लेने में शिक्षकों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता था। अब जब स्थाई कुलपति की नियुक्ति हो गई है तो माना जा रहा है कि समस्याओं का त्वरिच समाधान होगा।
हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/मधुप/आशुतोष [/expand]

 

षष्टि के बाद बारिश की संभावना नहीं, मौसम रहेगा सुहावना

कोलकाता, 9 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की सीमा से सटे बंगाल की खाड़ी में चक्रवात और निम्नदाब की वजह से बने आंधी और बारिश के आसार षष्टि से पहले खत्म हो जाएंगे।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 वमंगलवार को अलीपुर स्थित मौसम विभाग के पूर्वी क्षेत्रीय निदेशक गोकुल चंद्र देवनाथ ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि बुधवार से राजधानी कोलकाता समेत उत्तर और दक्षिण 24 परगना, हावड़ा, हुगली तथा पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर में तेज आंधी के साथ बारिश के आसार हैं, क्योंकि बंगाल की खाड़ी से उठने वाला चक्रवात ओडिशा और आंध्र प्रदेश में व्यापक प्रभाव डालेगा| इसका असर दक्षिण बंगाल पर भी होगा। हालांकि बुधवार से शुरू होने वाली आंधी और पानी रविवार तक खत्म हो जाएगी। रविवार को पंचमी है और दुर्गा पूजा का असल भ्रमण षष्टि से शुरू होता है। गोकुल चंद्र ने बताया कि सोमवार यानी षष्टि के दिन आकाश साफ रहने और धूप निकलने के आसार दिखे हैं। यही स्थिति सप्तमी, अष्टमी, नवमी, दशमी और एकादशी तक भी रहेगी। यानी कुल मिलाकर कहा जाए तो दुर्गा पूजा से पहले भले ही बारिश अपना रौद्र रूप दिखाने के लिए तैयार है लेकिन षष्टि से मौसम ठीक हो जाएगा और राजधानी कोलकाता समेत राज्यभर में पूजा घूमने वालों के उत्साह में बारिश का खलल नहीं पड़ेगा।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप/राधा रमण [/expand]

 

घर के सामने शराब पीने का विरोध करने पर वृद्ध की पिटाई

दक्षिण 24 परगना, 09 अक्टूबर (हि.स.)। दक्षिण 24 परगना जिले के कैनिंग थाना अंतर्गत मीठाखाली ग्राम में अपने घर के सामने शराब पीने का विरोध करना एक वृद्ध को महंगा पड़ गया।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 बताया जा रहा है कि सोमवार रात पेशे से रिक्शा चालक हसन अली मोल्ला के घर के सामने कुछ युवक शराब पी रहे थे। जब हसन अली मोल्ला ने इसका विरोध किया तो आरोप है कि शराब पी रहे युवकों ने हसन अली मोल्ला पर हमला कर दिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। हसन अली को पिटता देख जब बीच-बचाव करने उसका बेटा गया तो युवकों ने बेटे पर भी हमला कर दिया। इस दौरान स्थानीय लोग तमाशबीन बने रहे। युवकों के चले जाने के बाद गंभीर रूप से घायल अवस्था में अली हसन मोल्ला को देर रात कैनिंग महकमा अस्पताल पहुंचाया गया। इस बाबत पीड़ित ने कैनिंग थाने में मामले की लिखित शिकायत भी दर्ज करवाई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। खबर लिखे जाने तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पायी थी।
पीड़ित का आरोप है कि वह रिक्शा चलाने सुबह ही अपने घर से निकल जाता है। उसके बेटे और पत्नी भी काम करते हैं। वह भी अपने काम पर निकल जाते हैं। जिसका फायदा उठाकर रोज कुछ युवक हसन अली के घर के सामने मद्यपान करते हैं।
हिन्दुस्थान समाचार/धनंजय/राधा रमण [/expand]

 

मुर्शिदाबाद में आग, लाखों की सम्पत्ति जलकर खाक

मुर्शिदाबाद, 09 अक्टूबर (हि. स.)। मुर्शिदाबाद जिले के कांदी पेट्रोल पम्प के पास जटाधारी काठमिल में मंगलवार तड़के आग लगने से इलाके में अफरा-तफरी मच गई।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 बताया जा रहा है कि मंगलवार तड़के आग लगी। सबसे पहले पेट्रोल पम्प के पास एक राष्ट्रीय बैंक के सुरक्षाकर्मी ने ये आग देखी| उसके बाद पुलिस और दमकल विभाग को मामले की सूचना दी गई। खबर पाकर दमकल की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया। हालांकि इस अग्निकांड में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। लेकिन बताया जा रहा है कि इस आग में जलकर लाखों की सम्पत्ति खाक हो गई है। आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।
हिन्दुस्थान समाचार/धनंजय/राधा रमण [/expand]

 

मालदह शहर में मिला लावारिस ब्रीफकेस, बम की दहशत

मालदह, 09 अक्टूबर(हि.स.)। मालदह शहर के इंग्लिश बाजार थानांतर्गत 10 नम्बर वार्ड के कालीतल्ला इलाके में एक लावारिस ब्रीफकेस मिलने से इलाके में बम का आतंक फैल गया।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 बताया जा रहा है कि सोमवार रात 12 बजे स्थानीय तृणमूल नेता कृष्णेन्दु नारायण चौधरी के कार्यालय से थोड़ी ही दूरी पर लावरिश ब्रीफकेस को देखा गया| उसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। खबर पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और इलाके को घेर लिया। इसके बाद बम स्क्वायड को मामले की सूचना दी गई। लेकिन बम स्क्वायड मंगलवार सुबह मौके पर पहुंची और ब्रीफकेस को अपने कब्जे में ले लिया। बताया जा रहा है कि ब्रीफकेस में कुछ भी नहीं मिला। उल्लेखनीय है कि हाल ही में नागर बाजार में हुए बम धमाके के बाद राज्य की सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं।
हिन्दुस्थान समाचार/धनंजय/राधा रमण [/expand]

 

सीएम ने दी विश्व डाक दिवस की बधाई

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विश्व डाक दिवस पर डाक कर्मियों को शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 मंगलवार सुबह उन्होंने इस बारे में ट्वीट‌ किया।
सीएम ने लिखा, आज विश्व डाक दिवस है। इस मौके पर मैं डाक सेवा से जुड़े सभी कर्मचारियों को शुभकामनाएं प्रेषित करती हूं। भारतीय डाक विश्व के सबसे बड़े डाक सेवाओं में से एक है।ज्ञात हो कि विश्व डाक दिवस 09 अक्टूबर को मनाया जाता है। साल 1874 में 9 अक्टूबर को यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन के गठन हेतु बर्न, स्विटजरलैण्ड में 22 देशों ने एक संधि पर हस्ताक्षर किया था| इसी कारण विश्व डाक दिवस मनाने के लिए यह दिन चुना गया। साल 1876 में 1 जुलाई को भारत यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन का सदस्य बना तथा भारत में पहली बार वर्ष 1766 में डाक व्‍य‍वस्‍था की शुरूआत की गई| वर्तमान में 150 वर्षों से अधिक पुरानी भारतीय डाक में डेढ़ लाख से अधिक पोस्ट ऑफिस हैं| इनमें से 89.87% ग्रामीण क्षेत्रों में हैं| औसतन 21.23 वर्ग किलोमीटर में प्रत्येक‌ डाकघर लगभग 8086 जनसंख्या को अपनी सेवाएं प्रदान करता है।
भारत में एक विभाग के रूप में इसकी स्थापना 1 अक्टूबर, 1854 को हुई थी| भारतीय डाक विभाग नौ से 14 अक्टूबर के बीच विश्व डाक सप्ताह मनाता है। वर्ष 1766 में भारत में पहली बार डाक व्यवस्था का प्रारंभ हुआ। वारेन हेस्टिंग्स ने कोलकाता में प्रथम डाकघर वर्ष 1774 को स्थापित किया था।हिन्दुस्थान‌ समाचार/ओम प्रकाश/मधुप/सुप्रभा/राधा रमण [/expand]

 

दिसंबर तक डेंगू के डंक से राहत मिलने के आसार नहीं

कोलकाता, 9 अक्टूबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत राज्यभर में 40 से अधिक लोगों की जान ले चुके डेंगू का कहर दिसंबर तक थमने वाला नहीं है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी अजय कुमार चक्रवर्ती ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मौसम विभाग ने बंगाल से बारिश की विदाई की घोषणा गत पांच अक्टूबर को कर दी है। ऐसे में नवंबर महीने के मध्य तक डेंगू का कहर खत्म हो जाना चाहिए लेकिन अगर बीच में बारिश हो जाती है तो यह और अधिक आगे बढ़ सकता है। कुल मिलाकर कहा जाए तो दिसंबर महीने तक इसके कहर से राहत मिलने वाला नहीं है। सरकारी चिकित्सकों के संगठन सर्विस डॉक्टर्स फोरम के महासचिव सजल विश्वास ने भी यही दावा किया है। उन्होंने बताया कि इस साल डेंगू का कहर दिसंबर महीने तक चलेगा क्योंकि बारिश लगातार हुई है और कोलकाता समेत राज्य के अन्य हिस्सों में बड़ी संख्या में लोग इसकी चपेट में हैं।
ज्ञात हो कि सितंबर महीने में डेंगू ने राजधानी में अपना कहर बरपा रखा था। यहां प्रति सप्ताह किसी न किसी की मौत डेंगू की वजह से हो रही थी। राज्य के अन्य जगहों की स्थिति भी यही थी। गत शनिवार को ही करण कुमार साव (16 साल) नामक एक बच्चे की मौत अलीपुर के गैर सरकारी अस्पताल में डेंगू‌ की वजह से हो गई। वह मूल रूप से झारखंड का रहने वाला था और दुर्गा पूजा घूमने के लिए 15 दिन पहले कोलकाता आया था। उसके पिता विद्यानंद साव ने बताया है कि यहां आने के दो दिन बाद ही बुखार की चपेट में आ गया था। स्थानीय चिकित्सकों से इलाज कराने के बाद उसका बुखार कम नहीं हुआ तो उसे अलीपुर स्थित गैर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने छह अक्टूबर को दम तोड़ दिया।उल्लेखनीय है कि पिछले साल डेंगू की वजह से 100 से अधिक लोगों की मौत हुई थी जबकि राज्य स्वास्थ्य विभाग में केवल 47 लोगों की मौत की आधिकारिक पुष्टि की थी। इस साल भी आंकड़ा 40 के पार है लेकिन बारिश का पूरा सीजन बीत जाने के बाद भी राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस बारे में आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं दी गई है।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप/राधा रमण [/expand]

 

अमजद अली को ममता ने दी जन्मदिन की शुभकामनाएं

कोलकाता, 09 अक्टूबर (हि.स.)। मशहूर सरोद वादक उस्ताद अमजद अली खान को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जन्मदिन पर शुभकामनाएं प्रेषित की है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 मंगलवार सुबह उन्होंने इस बारे में ट्वीट किया।
ममता ने लिखा, जन्मदिन के मौके पर मशहूर सरोद वादक उस्ताद अमजद अली को शुभकामनाएं प्रेषित करती हूं। उन्हें हार्दिक बधाई।अमजद अली खान एक प्रसिद्ध सरोद वादक हैं जिनको भारत सरकार ने सन 1991 में कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया था।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ओम प्रकाश/मधुप/सुप्रभा/राधा रमण [/expand]

 

पुण्यतिथि पर कांशीराम को ममता ने दी श्रद्धांजलि

कोलकाता, 9 अक्टूबर (हि.स.)। बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) के संस्थापक कांशीराम को पुण्यतिथि के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने याद किया है।
[expand title=”पूरा_पढ़ें”]
 मंगलवार को उन्होंने इस बारे में ट्वीट किया। सीएम ने लिखा, ‘पुण्यतिथि के मौके पर मैं कांशीराम जी को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं। उनकी राजनीति सबके कल्याण वाली थी।’
उल्लेखनीय है कि कांशीराम राजनेता और समाज सुधारक थे। उन्होंने भारतीय वर्ण व्यवस्था में अछूतों और दलितों के राजनीतिक एकीकरण तथा उत्थान के लिए कार्य किया। उन्होंने दलित शोषित संघर्ष समिति (डीएसएसएसएस), 1971 में अखिल भारतीय पिछड़ा और अल्पसंख्यक समुदायों कर्मचारी महासंघ (बामसेफ) और 1984 में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की स्थापना की।
हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप/राधा रमण 
[/expand]

%d bloggers like this: