कोरोना वायरस संकट के कारण ए-320 विमान श्रृंखला के उत्पादन में तेजी से कटौती करने पर विचार

airbusa320
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

एयरबस कंपनी कोरोना वायरस संकट के कारण अपने सबसे ज्यादा बिकने वाले ए-320 विमान श्रृंखला के उत्पादन में तेजी से कटौती करने पर अध्ययन कर रही है.

यूरोप की अग्रणी प्लेन निर्माता कंपनी एयरबस नकदी में बचत करने के लिए अपनी ए-320 फैमिली जेट विमानों के मासिक उत्पादन, जोकि 60 प्लेन प्रतिमाह है, को अगले 3-6 महीने के लिए घटाकर आधा करना चाहती है. न्यूज़ एजेंसी रायटर्स के अनुसार, एयरबस ने ए-320 के पार्ट्स सप्लाई करने वाली कम्पनियों को कहा है कि वे माल की पूर्ती करने की गति को 40 प्रतिशत तक कम कर दें.

एयरबस ने कहा है, “वह दुनिया भर में विकसित हो रही कोविड-19 स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है और अपने ग्राहकों, आपूर्तिकर्ताओं और स्थापन भागीदारों के साथ निरंतर संपर्क में है.”

इस मामले में अप्रैल के मध्य में कंपनी के शेयरधारक की बैठक में अंतिम निर्णय की उम्मीद की जाती है जो कई अज्ञात बातों, जैसे “हवाई यात्रा संकट कितने समय तक रहेगा” पर निर्भर करता है.

एयरबस से अपेक्षा की जाती है कि वह ले-ऑफ से बचने का प्रयत्न करे और फ्रांस तथा जर्मनी में उपलब्ध कम समय की कार्ययोजनाओं का उपयोग करे.

रॉयटर्स ने बताया कि एयरबस और उसके प्रतिद्वंदी बोइंग इस बात पर अध्ययन कर रहे हैं कि ए-350 या बोइंग 777 जैसे बड़े और चौड़े बॉडी वाले जेट के उत्पादन में तेजी से कटौती कैसे की जाए. दोनों ही निर्माताओं ने जताया कि वे आपूर्ति की मांग को समायोजित करेंगे नकि ऐसे विमान का निर्माण करेंगे, जिन्हें वितरित नहीं किया जा सकता है.

हिन्दुस्थान समाचार/मनीष