मॉनसून में कोरोना पर नहीं पड़ेगा असर, एम्स के डॉयरेक्टर ने किया खुलासा

नई दिल्ली. हर कोई इंतजार में है कि कोरोना के खौफ से निजात पाई जा सके. भारत में ही कोरोना संक्रमण के 5 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. इस बीमारी से 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

अब स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि भारत में अभी कोरोना का पीक आना बाकी है. पहले ऐसा माना जा रहा था कि जुलाई में कोरोना का पीक आएगा. कई ऐसी रिपोर्ट्स भी सामने आई थी जिसमें ये दावा किया गया की मॉनसून के दौरान हवा में नमी रहेगी, जिससे संक्रमण का स्तर तेजी से बढ़ेगा.

इस संबंध में नई दिल्ली स्थित एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि मॉनसून आने के साथ ही देश में कोरोना वायरस के संक्रमण में बड़ा बदलाव नहीं होगा. गर्मी के दौरान भी कहा गया था की वायरस गर्मी से मर जाएगा जबकि ऐसा कुछ नहीं हुआ. वहीं बारिश में भी कोरोना के संक्रमण में बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा.

उन्होंने ये भी कहा कि अब डॉक्टरों को मॉनसून के दौरान ज्यादा सचेत रहना पड़ेगा. अब डेंगू, चिकुनगुनिया के मरीजों की संख्या भी बढ़ेगी. इन बीमारियों के लक्षण भी कुछ कुछ कोरोना से मिलते जुलते हैं.

Leave a Reply

%d bloggers like this: