मोदी-शाह को घुसपैठिया कहने पर संसद में हंगामा, अधिर रंजन चौधरी का माफी मांगने से इनकार

नई दिल्ली, 02 दिसम्बर (हि.स.). लोकसभा में कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह को घुसपैठिया बताने के मुद्दे पर सोमवार को हंगामा हुआ. भाजपा नेताओं ने चौधरी से बिना शर्त माफी की मांग की. इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विदेशी होने का मुद्दा भी भाजपा नेताओं ने उठाया.

वहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा मामले को तिल का ताड़ बना रही है. बंगाल और असम में आम नागरिक राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के चलते परेशान हैं. वहां भय का माहौल है. अगर सरकार एनआरसी को लेकर कुछ करना चाहती है तो सदन में विधेयक लाये. बाहर बयानबाजी कर राजनीति नहीं करनी चाहिए.

भोजनावकाश के बाद संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए. वहीं चौधरी के माफी नहीं मांगने पर जोशी ने कहा कि कांग्रेस और उसके नेता अधीर रंजन चौधरी सुधरने वाले नहीं है. सरकार की सदन को चलाने की जिम्मेदारी है इसलिए वह चाहते हैं कि मुद्दे को यहीं खत्म कर सदन की कार्यवाही आगे बढ़ाई जाए.

यह मुद्दा प्रश्नकाल के दौरान उठा और भोजनावकाश के बाद भी जारी रहा. पहले प्रश्नकाल के दौरान पूरक प्रश्न पूछते हुए भाजपा सांसदों ने अधीर रंजन चौधरी को घुसपैठिया कहा. जिसके जवाब में उन्होंने खुद को घुसपैठिया और दीमक बताया और मोदी, शाह व आडवाणी को घुसपैठिया कहा. इस पर धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि आपकी चालबाजी नहीं चलेगी, आपकी परिभाषा से देश नहीं चलेगा.

शून्य काल के दौरान भी भाजपा सांसद उदय प्रताप सिंह ने मामले को उठाया. भोजना अवकाश के बाद भाजपा नेता निशिकांत दूबे ने कहा कि कांग्रेस नेता चौधरी की नागरिकता की जांच होनी चाहिए.

वह जहां से आते हैं वहां बांग्लादेशी घुसपैठिये बहुत हैं. उन्होंने टीएमसी के साथ मिलकर कई बांग्लादेशियों को देश की नागरिकता दिलाई है. वह राज्यों के नाम पर राजनीति कर देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष शाह गुजरात से आते हैं लेकिन वह देश के नेता हैं.

इसके बाद भाजपा सांसद संजय जयसवाल ने कहा कि इस देश में लोगों को कहीं भी रहने का अधिकार है. कांग्रेस नेता देश को बरगलाने का काम कर रहे हैं. उनके खुद के नेता (सोनिया गांधी) विदेशी हैं. उन्हें सदन में माफी मांगनी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि अधीर रंजन चौधरी ने कहा था कि हिंदुस्तान सबके लिए है. यह किसी की जागीर नहीं है. सबका समान अधिकार है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का घर गुजरात में है और वह दिल्ली आए हैं, आप खुद बाहरी हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/अनूप

Leave a Reply