सुशांत की मौत ने खोले बॉलीवुड के गड़े राज, कोयना मित्रा बोली- हर कोई विवेक ओबरॉय नहीं होता

karana koena
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

सुशांत सिंह राजपूत का इस तरह जाना किसी के लिए सदमे से कम नहीं है. उनके फैंस और फैमिली को तो अभी यकीन नहीं हो रहा है कि सुशांत अब हमारे बीच नहीं रहे. सुशांत ने अपना करियर टीवी से शुरु किया था और फिर बॉलीवुड में एंट्री ली थी.

बॉलीवुड में आने के बाद सुशांत को सक्सेस तो मिली लेकिन यहां उनके दोस्त हीं बन पाए. जो दोस्ती उन्होंने स्कूल कॉलेज और टीवी इंडस्ट्री में देखी थी वो यहां नहीं थी. यहां लोग सिर्फ उसे पूछते है जो हिट होता है एक फ्लॉप और आप उनके ग्रुप से बाहर. खास तौर पर उन एक्टर्स के लिए बॉलीवुड में सर्वाइव करना और भी मुश्किल हो जाता है जो आउटसाइडर होते हैं.

टीवी में भले ही आउटसाइडर्स को काम मिल जाता हो, लेकिन बॉलीवुड में काम मिलने के बाद भी आउटसाइडर्स को बहुत कुछ झेलना पड़ता है इस बात को कई एक्टर्स ने कबूला भी है.

चंका चौँध से भरी इस ग्लैमर इंडस्ट्री में आपको रहना है तो या तो आपको हिट पर हिट देना होगा या फिर इसके लिए अपने असूलों के साथ समझौता करना होगा.

सुशांत के बॉलीवुड में ना सही लेकिन टीवी में बहुत अच्छे दोस्त थे. एक रात पहले जिस एक्टर को सुशांत ने कॉल किया था वो उनके साथ पवित्र रिश्ता में काम करता था और सपोर्टिंग एक्टर है.

वहीं उनकी अंतिम यात्रा में भी अर्जुन बिजलानी ऋत्विक धनजानी और क्रिस्टल डिसूजा पहुंचे जो उनके टीवी इंडस्टी के दोस्त हैं. टीवी एक्ट्रेस हिना खान रात भर सुशांत की याद में रोती रही, तो अंकिता लोखंडे का क्या हाल है ये आप सभी जानते ही है.

टीवी एक्टर करण पटेल ने भी बिना नाम लिए सुशांत के नाम एक पोस्ट किया जिसमें उन्होंने सुशांत के साथ हुए साजिश का पर्दाफाश किया करण ने लिखा- “आज ‘महाभारत’ देख रहा था…कमाल का एपिसोड था. आज के एपिसोड में कुछ नीच धूर्तों ने अभिमन्यु को चक्रव्यूह में फंसाकर कायरता से मार दिया. अभिमन्यु की चिता जल रही थी. मासूम बालक शातिरों के हाथ मारा गया. बड़ा ही दर्दनाक दृश्य था. भगवान उस पवित्र आत्मा को शांति दे”

बिग बॉस 13 की कंटेस्टेंट रही कोयना मित्रा ने तो ट्वीट कर साफ साफ कह दिया कि “विवेक ओबरॉय ने सर्वाइव कर लिया पर इसका मतलब ये नहीं है कि हर कोई सर्वाइव कर जाए निराशा की बात है कि यहां बहुत विवेक है.”