भ्रष्टाचार की शिकायत पर रांची और धनबाद में चार स्थानों पर ACB के छापे

  • रांची में नगर निगम, रजिस्ट्री कार्यालय और डोरंड थाना पर मार छापा
  • एसीबी अधिकारियों को नगर निगम में नहीं मिला कोई अधिकारी

रांची. एंटी करप्सन ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने रांची और धनबाद में चार स्थानों पर छापेमारी की है. एसीबी की टीम ने रांची में नगर निगम कार्यालय, रजिस्ट्री कार्यालय व डोरंडा थाना और धनबाद में नगर निगम कार्यालय पर छापामारा है. समाचार लिखे जाने तक कार्रवाई जारी थी.

बुधवार को अनियमितता और भ्रष्टाचार की शिकायत पर एसीबी के डीजी नीरज सिन्हा के आदेश पर छापेमारी की. एसीबी के बड़े अधिकारी रांची और धनबाद के कार्यालयों में कागजातों की जांच कर रहे हैं. खबर लिखे जाने तक एसीबी की कार्यवाही चल रही है. इस संबंध में एसीबी के अधिकारियों ने और किसी भी तरह की जानकारी देने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि फिलहाल जांच चल रही है और इसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

रांची में नगर निगम पर हुई कार्रवाई का नेतृत्व डीएसपी सादिक एमडी रिजवी के नेतृत्व में छापेमारी में की गयी. एसीबी के अधिकारी स्थानीय नगर निगम, रजिस्ट्री कार्यालय और डोरंडा थाना पर कागजातों की छानबीन कर रहे हैं.

धनबाद से खबर मिली है कि एसीबी के अधिकारियों ने नगर निगम कार्यालय पर छापेमारी की है. एसीबी की दबिश से अफसर से लेकर कर्मचारी तक में हड़कंप मच गया. अधिकारी कार्यालय में क्रियाकलापों के साथ अनियमितताओं और भ्रष्टाचार मामलों की फाइलें को खंगाल रही है. टीम के अधिकारियों ने बताया कि उन कार्यालयों को चुना है, जहां से लगातार भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थीं. एसीबी अधिकारी कामकाज संबंधी कई फाइलों को खंगालने में लगे रहे.

साहेब तो छुट्टी पर हैं, निगम में पसर गया सन्नाटा

एसीबी की टीम आने की खबर आते ही देखते-देखते पूरा रांची नगर निगम खाली हो गया. कर्मचारी भी इधर-उधर खिसकते नजर आये. जांच अधिकारियों के खोजने पर भी अधिकारी नहीं मिल रहे थे. अधिकारियों के न मिलने पर डीएसपी सादिक एमडी रिजवी गुस्से में दिखे. जब उन्होंने अधिकारियों से मिलने की इच्छा जताई तो उन्हें जवाब मिला कि साहेब तो छुट्टी पर हैं.

वाटर बोर्ड से शुरू हुई जांच

नगर निगम में पहुंने से पहले एसीबी की टीम वाटर बोर्ड गयी, लेकिन वहां उन्हें कोई अधिकारी नहीं मिला. हालांकि एसीबी की टीम काफी देर तक डिपार्टमेंट में बैठी रही. बाद में एसीबी अधिकारी ने कर्मचारियों से फाइलें मंगवा कर देखीं. इस दौरान उन्होंने कई कर्मचारियों को एक-एक कर बुलाकर अकेले में बुलाकर पूछताछ की

हिन्दुस्थान समाचार/विकास

Leave a Reply

%d bloggers like this: