5G ट्रायल जून में होगा शुरू, अक्टूबर में हो सकती है स्पेक्ट्रम निलामी

  • ट्रायल जून महीने में शुरू किया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल तीन महीने तक इसकी जांच की जाएगी
  • एयरटेल, वोडाफोन आईडिया और रिलायंस जियो को तीन महीनों के लिए 5G स्पेक्ट्रम ट्रायल का मौका मिला है

नई दिल्ली. देश में 5जी सर्विस के लिए ट्रायल अगले महीने शुरू होने जा रहा है. टेलीकॉम मिनिस्ट्री के पैनल ने ट्रायल को हरी झंडी दे दी है.

इसका ट्रायल जून महीने में शुरू किया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल तीन महीने तक इसकी जांच की जाएगी.

शुरुआत में एयरटेल, वोडाफोन आईडिया और रिलायंस जियो को तीन महीनों के लिए 5G स्पेक्ट्रम ट्रायल का मौका मिला है.

जिसे ज़रूरत पड़ने पर एक साल और बढ़ाया जा सकता है. सोर्स के अनुसार तीन वेंडर्स को पैनल के लिए ग्रीन सिग्नल मिला है.

जिसमें सैमसंग, नोकिया और एरिक्सन शामिल हैं. अगले दो सप्ताह के भीतर इन्हें भी लाइसेंस जारी किए जा सकते है.

ट्रायल के लिए जियो सैमसंग के साथ पार्टनरशिप कर सकता है. वहीं नोकिया एयरटेल और वोडाफोन आईडिया Ericsson के साथ साझेदारी कर सकता है.

हालांकि अभी तक डिपार्टमेंट ऑफ़ टेलिकॉम ने Huawei के बारे में कोई खुलासा नहीं किया है कि कम्पनी किसी टेलिकॉम सर्विस कम्पनी के साथ भागीदारी करेगी.

फिलहाल Huawei को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है. अमेरिका बार-बार भारत समेत कई देशों को Huawei को बाहर रखने की अपील कर रहा है.

5G का सफल ट्रायल पूरा होने के बाद इसी साल अक्टूबर में स्पेक्ट्रम की नीलामी संभावना भी जताई जा रही है.

Trending Tags- 5G | 5G Spectrum | Samsung | Nokia