एशिया की दूसरे नंबर की मंडी में 5 हजार बोरी लाल मिर्च की हुई आवक

Red Chilly
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

खरगोन, 04 अक्टूबर (हि.स.). खरगोन जिले के बड़वाह विधानसभा का ग्राम बैडिया में स्थित एशिया की दूसरे नम्बर एवं मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी मिर्ची मण्डी में किसान बड़ी संख्‍या में अपनी लाल मिर्च लेकर पहुंचे, लेकिन कर्मचारियों की हड़ताल होने के कारण उन्‍हें परेशानी का सामना करना पड़ा और किसानों को अपनी उपज मण्डी गेट के बाहर ही लगाना पड़ी.

जानकारी के अनुसार इस समय सूबे में मंडियों के निजीकरण के विरोध में मंडी कर्मचारियों की पिछले 27 अक्‍टूबर से भूखहड़ताल चल रही है. इस वजह से मंडियों में ताले लगे हैं. जिससे प्रदेश के किसानों को उपज बेचने के लिए यहां वहां भटकटना पड़ रहा है. कुछ किसान तो मंडी के बाहर ही व्‍यापारियों को अपनी फसल औने-पौंने भाव में तुला रहे हैं.

रविवार को बैडिया में स्थित मण्डी में 5 हजार बोरी नई लाल मिर्च की आवक रही, लेकिन हडतला के चलते किसानों को अपनी मिर्च मंडी की जगह बाहर ही बेचना पड़ी. किसानों के अनुसार बारिश एवं मजदूरों की कमी के कारण माल कम आ रहा. फिर भी मौसम साफ होने पर आने वाले समय में माल की आवक बढेगी .

व्यापारी ओमप्रकाश राठौड़ ने बताया अधिकतम माल बारिश के कारण दागी हो जाता है . आने वाले समय में क्वालिटी में सुधार होगा जिससे व्यापार में सुधार होगा. वहीं किसान मयाचन्द एव रामकरण ने बताया हड़ताल के कारण मजबूरी में हमे अपने हिसाब से फसल को मंडी के बाहर लगानी पड़ी . यहां पर पीने के पानी के साथ-साथ अन्य परेशानियों का सामना भी करना पड़ा.

हिन्दुस्थान समाचार/चन्द्रशेखर कर्मा/ देवेन्द्र/राजू