असम में बाढ़ और बारिश का कहर, 43 लाख लोग हुए प्रभावित
  • असम सरकार राज्य में बाढ़ के बिगड़ते हालात को देखते हुए रेड अलर्ट जारी कर दिया है
  • ब्रह्मपुत्र नदी के लगातार बढ़ते जल स्तर के बढ़ने से राज्य की राजधानी गुवाहाटी के डूबने की भी आशंका बढ़ गई है

गुवाहटी. पूर्वोत्तर राज्य असम के कुछ हिस्सों में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है. असम के 33 में से 30 जिलों के लगभग 43 लाख लोग सैलाब से प्रभावित हैं. वहीं बाढ़ ने 15 लोगों की जान भी ले ली है.

असम सरकार राज्य में बाढ़ के बिगड़ते हालात को देखते हुए रेड अलर्ट जारी कर दिया है. राज्य सरकार के अनुसार बाढ़ की वजह से अभी तक राज्य के तकरीबन 4,157 गांवों में पानी भर गया है.
बाढ़ से प्रभावित 83 हजार लोगों को कुल 183 राहत शिविरों में रखा गया है.

ब्रह्मपुत्र नदी के लगातार बढ़ते जल स्तर के बढ़ने से राज्य की राजधानी गुवाहाटी के डूबने की भी आशंका बढ़ गई है. बाढ़ के विकराल रूप धारण करने की वजह से राज्य की दस नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं.

जिन जिलों में बाढ़ से हालात सबसे ज्यादा खराब है उनमें धेमाजी, लखीमपुर, बिश्वानाथ, सोनितपुर, उदलगुरी, बकसा, बरपेटा, नालबारी और चिरांग मुख्य रूप से शामिल हैं. राज्य सरकार के अनुसार बाढ़ की वजह से राज्य में कुल 15 लोगों की मौत हो गई है.

इसके अलावा राज्य में मौजूद काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान, पोबितोरा वन्यजीव अभयारण्य और मानस राष्ट्रीय उद्यान भी पूरी तरह जलमग्न हो चुके हैं. काजीरंगा नेशनल पार्क में बाढ़ का पानी घुसने से अभी तक 17 जानवरों की मौत हो चुकी है. 

बाढ़ की वजह से किसानों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. एक अनुमान के मुताबिक अभी तक राज्य में बाढ़ की वजह से कुल 90 हजार हेक्टेयर जमीन पानी में डूब गई है. जिससे सारी फसले खराब हो गई है.

मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों में बाढ़ के हालात और बिगड़ सकते हैं. बाढ़ प्रभावित इलाकों में अभी भी बारिश का अनुमान जताया जा रहा है. जिससे आने वाले दिनों में हालात काबू के बाहर हो सकते है.

राज्य सरकार के अनुसार अभी तक एनडीआरएफ की कुल 15 टीमों को बचाव कार्य में लगाया है. पीएम मोदी ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनेवाल से फोन पर बात कर राज्य में बाढ़ के हालात के बारे में जानकारी ली.

Trending Tags- Flood in Assam | Aaj ka Samachar | Weather News

1 thought on “असम में बाढ़ और बारिश का कहर, 43 लाख लोग हुए प्रभावित”

Leave a Comment

%d bloggers like this: