मैदान के अन्दर और बाहर ‘उपलब्धियों, सीखने और यादों’ का साल है 2019 : जसप्रीत बुमराह

हर साल बाद एक नया साल आता है और अगला साल आते-आते वह पुराना हो जाता है. रह जाती है तो बस अनकहे किस्से और यादे. भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने भी मंगलवार को वर्ष 2019 को मैदान के अन्दर और बाहर ‘उपलब्धियों, सीखने और यादों’ का साल बताया. उन्होंने कहा कि वह 2020 में एक अन्य सफल साल का बेताबी से इंतजार कर रहे हैं.

जसप्रीत बुमराह ने ट्वीट किया,‘वर्ष 2019 मैदान के अंदर और बाहर उपलब्धियों, सीखने, कड़ी मेहनत और सुखद यादें जोड़ने का साल रहा. वर्ष 2020 में मैं जो भी हासिल करूंगा मुझे उसका इंतजार है.’

अब हम वर्ष 2019 की सफलता की बात करें तो 26 वर्षीय बुमराह न सिर्फ तीनों प्रारूपों में भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुवा बने, बल्कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज भी बने. 2019 का समापन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नम्बर एक गेंदबाज के रूप में किया है, जबकि आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में वह दुनिया के छठे नम्बर के गेंदबाज हैं.

इसी वर्ष बुमराह हरभजन सिंह और इरफान पठान के बाद टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने. बुमराह ने अब तक भारत की तरफ से 12 टेस्ट, 58 वनडे और 42 टी-20 अंतरराष्ट्रीय में क्रमश: 62, 103 और 51 विकेट झटके हैं.

बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 14 जनवरी से शुरू होने वाली वनडे सीरीज के लिए भी टीम में चुना गया है. हालांकि चोटिल होने के कारण अगस्त से बाहर थे. वह चोट से उबर गए हैं और श्रीलंका के खिलाफ पांच जनवरी से शुरू होने वाली टी-20 सीरीज में वापसी करने के लिए तैयार हैं.

हिन्दुस्थान समाचार /प्रतीक

Leave a Reply

%d bloggers like this: