यूपी में शराब पीकर मरने वालों के लिए सीएम ने किया ये एलान…

कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से 5 और लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में दो सगे भाई भी शामिल हैं. इससे पहले बुधवार को इसी शराब को पीने ते 5 लोगों की मौत हो चुकी है.

स्प्रिट से बनी शराब पीकर मरने वालों की संख्‍या बढ़कर अब 10 हो गई है. लगातार मौत होने से इलाके में दहशत फैल गई है. प्रशासन में भी हड़कंप मचा हुआ है.

मौतों के बाद प्रशासन हुआ सख्त

घटना के बाद क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक हृदय नारायण पांडेय को निलंबित कर दिया गया है. उन्हें आबकारी आयुक्त कार्यालय इलाहाबाद से संबद्ध किया गया है. तरयासुजान एसओ को भी लाइनहाजिर कर दिया गया है. हादसे को देखते हुए कुल 9 लोगों को सस्पेंड कर दिया गया है.

पुलिस ने कच्ची शराब बेचने वालों पर मुकदमा दर्ज करते हुए एक कारोबारी को गिरफ्तार कर लिया है. जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने गुरुवार को भी प्रभावित विरवट कोन्हवलिया गांव का दौरा किया.

सीएम ने दिया मुआवजा

सीएम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर में अवैध शराब से लोगों की मौत की घटना का संज्ञान लिया. उन्होंने कुशीनगर के जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि पीड़ितों को पर्याप्त चिकित्सा मिले.

सीएम ने इन घटनाओं में मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये और अस्पतालों में इलाज करा रहे गंभीर रूप से बीमार लोगों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है.

मौनी अमावस्या पर बेची गई थी शराब

मौनी अमावस्या पर सोमवार को विरवट कोन्हवलिया के पास गंडक नदी के घाट पर यह शराब बेची गई थी. यह अब भी लगातार लोगों की जानें निगल रही हैं. जहरीली शराब पीने से होने वाली मौतों की संख्या लगातार बढ़ने से प्रशासन में हड़कंप मचा है.

3 लोगों का आनन-फानन अंतिम संस्कार कर दिया गया था. कई और के बीमार होने की खबर थी. पुलिस को 2 शव ही मिले थे. गुरुवार को 5 और मौतों की खबर सुनकर प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए. 

पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने बताया कि 10 लोगों की मौत की सूचना है मगर दो लोगों की बीमारी से मौत हुई है. आठ लोगों के अधिक शराब पीने से मौत होने की बात कही जा रही है.

%d bloggers like this: