दिल्ली के बाद कोलकाता में रुला रहा प्याज, कीमत 80 के पार

नई दिल्ली. कोलकाता में प्याज का दाम आसमान छूने लगा है. गुरुवार को मछुवाबाजार और अन्य सब्जी मंडी में प्याज की कीमत 80 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई है.दुर्गा पूजा के कुछ दिन पहले से ही पूरे देश में प्याज का दाम बढ़ने लगा था.

कोलकाता में इसकी कीमत 80 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई है. दिल्ली में अभी भी प्याज 100 रुपये प्रति किलो से अधिक है. बताया गया है कि मानसून के समय लगातार होने वाली बारिश की वजह से बनी बाढ़ जैसी परिस्थिति की वजह से प्याज की कीमत आसमान छूने लगी है.

सब्जी विक्रेताओं ने बताया कि पिछले साल नवम्बर महीने में 20 से 25 रुपये किलो की दर से प्याज बेची गई थी लेकिन इस बार यह चार गुना अधिक दाम पर बेची जा रही है. हावड़ा, हुगली, जादवपुर, उत्तर और दक्षिण 24 परगना के विभिन्न शहरी क्षेत्रों में प्याज का दाम 80 रुपये है.

प्याज की सबसे अधिक आपूर्ति महाराष्ट्र के नासिक से होती है. वहां बहुत अधिक बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं, जिसके कारण प्याज की खेती भी बर्बाद हुई है और गोदाम में प्याज का स्टॉक भी कम है. करीब 40 फ़ीसदी उत्पादन कम हो गया है. बाढ़ की वजह से देश के अन्य इलाकों में भी प्याज का उत्पादन कम हुआ है. इसलिए प्याज का दाम जरूरत के हिसाब से अधिक हो गया है.

पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य में महंगाई कम करने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया है. इसके सदस्य कमल दे से जब गुरुवार को इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि जब तक प्याज की नई फसल बाजार में नहीं आ जाती तब तक कीमत में कमी नहीं हो सकेगी. उन्होंने उम्मीद जताई कि दिसम्बर महीने में दाम थोड़ा बहुत कम हो सकता है. हालांकि पश्चिम बंगाल सरकार के अपने स्टॉल “सुफल बांग्ला” पर प्याज 55 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेचा जा रहा है.

यह स्टॉल पूरे राज्य में बहुत कम हैं, इसलिए बहुत सारे लोग पहुंच नहीं पा रहे हैं. जो लोग पहुंच भी रहे हैं, उन्हें लाइन लगाकर प्याज खरीदना पड़ रहा है.वहां भी आपूर्ति कम होने की वजह से सब को नहीं मिल रहा. कुल मिलाकर कहा जाए तो अब कोलकाता में प्याज लोगों को रुलाने लगा है.

 हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश

Leave a Comment

%d bloggers like this: